बड़बिल (संवाद सूत्र)। पहले बेटी को प्यार में फंसाया फिर बाप के खाते से उड़ा लिए 2.25 लाख रुपये। चोरी के रुपयों से भौतिक सुख के लिए महंगे कपड़े, जूते, मोबाईल फोन सहित एक पुरानी चेवर्लेट की बीट कार खरीदकर ले रहा था जिंदगी के मजे।

अब पुलिस ने पकड़कर भेजा है उसे जेल। किसी फिल्मी कहानी जैसी साइबर अपराध से जुड़ी यह घटना ओडिशा के क्योंझर जिला अंतर्गत जोड़ा नगर की है। गिरफ्तार युवक का नाम बबलू महतो है। जोड़ा थाना प्रभारी रायसेन मुर्मू ने इस मामला का शुक्रवार को खुलासा किया। बताया कि केन्दुझर जिला के जोड़ा नगर में स्थित भारतीय स्टेट बैंक की शाखा से साईबर अपराधी ने 2 लाख पच्चीस हजार 778 रुपये की निकासी की थी। पुलिस ने उक्त साइबर अपराधी को खोज निकालने में सफलता प्राप्त की है।

रायसेन मुर्मू ने गिरफ्तार बबलू के बारे में बताया कि झारखंड के रांची जिला अन्तर्गत सिल्ली थाना के रंगमाटीया ग्राम निवासी दिलीप महतो की पत्नी का 2005 में देहांत हो गया था। दिलीप ने अपने 7 वर्ष के बेटे बबलू महतो को राउरकेला में स्थित एसओएस विलेज आश्रम में छोड़ दिया था। कुछ माह के बाद बबलू महतो से मिलने उसका पिता जब आश्रम गया तो पता चला कि

वर्ष 2015 में बबलू महतो आश्रम से फरार हो गया था। इधर, भुवनेश्वर के एक अनुसंधान केन्द्र में कुछ माह गुजारने के बाद बबलू पुनः राउरकेला आश्रम पहुंचा। इसी बीच आश्रम में काम कर रही क्योंझर जिला के झुंपुरा थाना अंतर्गत गुमुरा ग्राम निवासी निरंजन महंतो की बेटी के सम्पर्क में वो आया। दोनों के बीच नजदीकियां बढ़ी और बबलू महतो ने प्रेमिका के साथ उसके घर में प्रवेश कर परिवार के साथ घनिष्ठता बढ़ाई। प्रेमिका के परिवार का विश्वास जीतने के बाद अक्सर उसके पिता निरंजन महंतो के साथ बैंक के खाते से रकम निकासी के समय सहायता करता था।

रुपये की चाह और भौतिक जीवन के चकाचौंध ने बबलू को गलत राह पर चलने के लिए विवश किया। बबलू ने निरंजन के खाते का फोटो कॉपी कर बैंक खाते से लिंक हुए मोबाइल सिमकार्ड निकालकर एक डेड सिमकार्ड निरंजन के मोबाइल में डाल कर फरार हो गया। निरंजन के सिमकार्ड को बबलू ने एक अन्य मोबाइल में डालकर फोन-पे ऐप इंस्टाल किया।

इसके जरिए 18 नवंबर से 18 दिसम्बर 2019 के बीच कई बार रुपये निकालता रहा और उक्त रकम को अपने खाते में ट्रांसफर न कर अपने एक साथी के खाते में ट्रांसफर करता रहा। बाद में मित्र एटीएम से रुपये निकालकर बबलू को दिया करता था। उस रुपये से बबलू अपने भौतिक सुख के लिए महंगे वस्त्र, जूते, मोबाईल फोन सहित एक पुरानी चेवर्लेट की बीट कार खरीद मजे कर रहा था। जोड़ा थाना में प्राथमिकी दर्ज होने के बाद जोड़ा पुलिस अनुसंधान में जुटी हुई थी। पुलिस ने साईबर क्राइम एक्सपर्ट की सहायता से अभियुक्त 21 वर्षीय बबलू महतो को गुरुवार को भुवनेश्वर से गिरफ्तार किया। शुक्रवार को बबलू महतो को कोर्ट चालान किया गया है।

Posted By: Vikas Srivastava

डाउनलोड करें जागरण एप और न्यूज़ जगत की सभी खबरों के साथ पायें जॉब अलर्ट, जोक्स, शायरी, रेडियो और अन्य सर्विस