गोईलकेरा : पश्चिम सिंहभूम के गोईलकेरा प्रखंड के चर्चित डबल मर्डर केस मे पुलिस को एक और सफलता हाथ लगी। हत्याकांड के उद्भेदन के आठ दिन बाद पुलिस ने तीसरे और कांड के मुख्य आरोपित विशेश्वर गौड़ को समीज आश्रम से गिरफ्तार किया गया। थाना प्रभारी बीके ¨सह को गुप्त सूचना मिली थी कि हत्या का मुख्य आरोपी विशेश्वर गौड़ अपने बुआ के घर आया हुआ है। गुप्त सूचना के आधार पर गिरफ्तारी के लिए एक टीम का गठन किया। टीम ने शुक्रवार की सुबह 9.15 बजे विशेश्वर को गिरफ्तार किया। उसके पास से मृतक कृष्णा गुप्ता उर्फ मनडोले का आईटेल कंपनी का मोबाइल भी बरामद किया गया। विशेश्वर गौड़ पिता बिरसा गौड़ मूल रूप से ओडिशा के सुंदरगढ़ जिलान्तर्गत हाथीबाड़ी थाना क्षेत्र के कोयमुंडा गांव का निवासी है। मालूम हो कि इसी वर्ष एक मार्च की रात होलिका दहन देखने समीज आश्रम गए गोईलकेरा के दो युवक मो. सैफ और उसके दोस्त कृष्णा गुप्ता की पारलीपोस मैदान में निर्मम हत्या कर दी गई थी। पुलिस इस मामले में दो आरोपित चन्द्रभानु गोप व जयपाल गोप को पहले ही गिरफ्तार कर जेल भेज चुकी है। जबकि हत्याकांड को छह लोगों ने अंजाम दिया था। अभी भी तीन आरोपित फरार हैं। जिनकी गिरफ्तारी को लेकर गोइलकेरा पुलिस लगातार छापेमारी कर रही है। थाना प्रभारी बीके ¨सह ने बताया कि हत्या करने की बात स्वीकार कर ली है। उसने बताया कि दारू पीने के दौरान हुए विवाद में ही छह लोगों ने दोनों को मार डाला था।

Posted By: Jagran

डाउनलोड करें जागरण एप और न्यूज़ जगत की सभी खबरों के साथ पायें जॉब अलर्ट, जोक्स, शायरी, रेडियो और अन्य सर्विस