संवाद सूत्र, गोईलकेरा : क्षेत्र के प्रसिद्ध महादेवशाल धाम मंदिर से दूसरी सोमवारी पर भी श्राद्धालुओं को गेट से वापस लौटना पड़ा। लॉकडाउन के कारण मंदिर बंद रहने के कारण लोग पूजा अर्चना नहीं कर सके। महादेवशाल धाम इस वर्ष करोना महामारी के कारण प्रसिद्ध श्रावणी मेला का आयोजन नहीं किया गया। प्रत्येक वर्ष सावन महीने में लाखों लोगों व शिव भक्तों से मंदिर गुलजार रहने वाला महादेवशाल मंदिर में दूसरी सोमवारी को मंदिर के पुजारी व कुछ जजमानों ने पूजा-अर्चना की। महादेवशाल सेवा समिति की ओर से नियुक्त पुजारी मनोज तिवारी ने ब्रह्म मुहूर्त मे बाबा का रुद्राभिषेक किया। इसके बाद समिति द्वारा बाबा का भव्य श्रृंगार किया गया। सुबह बाबा के दर्शन के लिए आसपास के काफी लोग मंदिर पहुंचे थे। परंतु मंदिर के सभी द्वार पर ताला लगा हुआ था। पुजारी ने मंदिर के बंद होने की जानकारी सभी दिया गया।जिसके बाद मंदिर के मुख्य द्बार पर ही श्रद्धालु पूजा कर अपने घर लौट गए।पूजारी मनोज तिवारी ने प्रशासन के निर्देशानुसार सुबह ब्रह्म मुहूर्त व संध्या पूजा की जानकारी दी गई।

Posted By: Jagran

इंडियन टी20 लीग

डाउनलोड करें जागरण एप और न्यूज़ जगत की सभी खबरों के साथ पायें जॉब अलर्ट, जोक्स, शायरी, रेडियो और अन्य सर्विस