संवाद सूत्र, नोवामुंडी : नोवामुंडी प्रखंड के 17 पंचायतों में सोमवार को स्वच्छ भारत मिशन के तहत बने शौचालयों की जांच की गई। मौके पर जगन्नाथपुर एसडीओ मो. इश्तियाक अहमद ने कोटगढ़ व एलआरडीसी ने कादाजामदा पंचायत में बने शौचालयों की जांच की। एसडीओ मो. इश्तियाक अहमद ने बताया कि देर शाम तक जांच रिपोर्ट आने के बाद मंगलवार को जांच प्रतिवेदन उपायुक्त के पास सौंपा जाएगा। बाद में इसकी सारी रिपोर्ट मुख्यमंत्री के पास भेजी जाएगी। शौचालय जांच के दौरान अधिकतर लोगों के इसे इस्तेमाल नहीं करने की बात सामने आई है। उन्होंने कहा कि शौचालय निर्माण में जांच के दौरान गड़बड़ी मिलने पर कार्रवाई की जाएगी। इसके पहले सभी जगह की जांच रिपोर्ट आने के बाद ही कुछ कहा जा सकता है। बता दें कि चाईबासा प्रवास के दौरान मुख्यमंत्री को शौचालय निर्माण में गड़बड़ी होने की शिकायत की गई थी। इसमें नोवामुंडी, जगन्नाथपुर, मनोहरपुर व गोइलकेरा प्रखंड क्षेत्र में बने शौचालय निर्माण की शिकायत हुई थी। शिकायत में वीडब्लूएससी द्वारा शौचालय निर्माण कार्य 12 हजार रुपये के जगह केवल 7 हजार रुपये में करने के बाद शेष सरकारी राशि के दुरुपयोग की सूचना मिली है। इसी के आलोक में सरकार के प्रधान सचिव पेयजल एवं स्वच्छता विभाग के निर्देश पर शौचालय जांच के लिए चारों प्रखंड क्षेत्र में टीम गठित करने का निर्देश मिला है। नोवामुंडी प्रखंड में स्वच्छ मिशन योजना के तहत कुल 8022 शौचालय निर्माण का लक्ष्य मिला था। इसमें से 80 प्रतिशत निर्माण कार्य खत्म होने का अनुमान लगाया जा रहा है। देर शाम तक जांच रिपोर्ट आने के बाद सबकुछ सामने आ जाएगा।

Posted By: Jagran

डाउनलोड करें जागरण एप और न्यूज़ जगत की सभी खबरों के साथ पायें जॉब अलर्ट, जोक्स, शायरी, रेडियो और अन्य सर्विस