संवाद सूत्र, मनोहरपुर : पश्चिमी सिंहभूम जिले के जराईकेला थाना क्षेत्र के समठा गांव के पास जंगल में शुक्रवार को पुलिस ने एक क्षत विक्षत शव बरामदगी की घटना का पटाक्षेप कर दिया है। पुलिस ने अनुसार पौलुस कोनगाडी की हत्या ओझा गुनी के चक्कर में हुई थी। हत्या के मामले में चार लोगों को गिरफ्तार कर जेल भेज दिया। जिसमें समठा गांव का जुमन गुड़िया, इसाक जोजो, सुरेश जोजो और बासु गुड़िया हैं। सभी ने हत्या किए जाने का जुर्म कबूल किया है। उन्होंने पुलिस को बताया कि लकड़ी से वार कर हत्या की थी। हत्या के बाद शव को जंगल के एक गड्ढे में छुपा दिया था। ज्ञात ही कि समठा गांव के चितान टोला निवासी 58 वर्षीय पौलुस कोनगाड़ी का शव शुक्रवार को पुलिस ने समठा जंगल के एक गड्ढे से बरामद किया था। पौलुस कोनगाड़ी की हत्या के मामले को लेकर पुलिस ने चार पांच लोगों को हिरासत में ले पूछताछ कर रही थी। मामले को लेकर जराइकेला थाना मामला दर्ज कर लिया गया था। क्या हैं मामला

इधर घटना को लेकर मृत पौलुस कोनगाड़ी की बहू गांगी कोंनगाड़ी ने बताया कि विगत 23 मई की दोपहर वो घर के लिए पानी लेने गई थी। इसके बाद जब वो घर आयी तो देखा कि उनका ससुर पौलुस कोनगाड़ी घर मे नहीं हैं तथा घर के कमरे में जगह जगह खून के धब्बे लगे हुए हैं। उसके बाद गांगी ने घटना की सूचना जराइकेला पुलिस को दी थी।

Posted By: Jagran

डाउनलोड करें जागरण एप और न्यूज़ जगत की सभी खबरों के साथ पायें जॉब अलर्ट, जोक्स, शायरी, रेडियो और अन्य सर्विस