जागरण संवाददाता, चक्रधरपुर : पवित्र श्रावण मास की तीसरी सोमवारी पर भोलेनाथ शिव को जलाभिषेक करने का भक्तों में गजब उत्साह दिखा। रविवार की सुबह चक्रधरपुर के थाना रोड स्थित संजय नदी में जल भरने को शिवभक्तों का रेला लगा रहा। नदी स्नान व मुक्ति घाट मंदिर में पूजा उपरांत डाक बम व कांवरियों का समूह गोईलकेरा प्रखंड स्थित महादेवशाल धाम को रवाना हुआ। जहां मुक्ति घाट भगवा वस्त्रधारी शिवभक्तों से पटा रहा वहीं भक्तिमय गीतों से श्रद्धालुओं में भक्ति का संचार होता रहा। डाक बम व कांवरियों में महिलाओं व युवतियों की संख्या भी काफी रही। बच्चे भी गेरूवा वस्त्र धारण कर भोलेनाथ को जलार्पण करने पैदल ही महादेवशाल धाम को मुख्य सड़क मार्ग से रवाना हुए। पहली बेला में मौसम साफ रहा। लेकिन शाम को बारिश हुई, जिससे शिवभक्तों की अपने गंतव्य तक पहुंचने की राह थोड़ी आसान हुई। तीसरी सोमवारी को चक्रधरपुर शहरी क्षेत्र के पंडित हाता, आरई कॉलोनी, दंदासाई, पुराना बस्ती, पोर्टरखोली, अचंल कॉलोनी, मुक्ति घाट, न्यू बस स्टैंड, चांदमारी, बाराखोली, आरपीएफ बैरक, देवगांव समेत छोटानागरा, चिरिया, आनंदपुर, मनोहरपुर, गोईलकेरा, बंदगांव, सोनुवा में भी जल व दूध चढ़ाया जाएगा। शनिवार की रात्रि से ही शिव भक्तों का जमावड़ा मुक्तिनाथ घाट एवं मुनीबाबा धर्मशाला, सालुजा कंप्लेक्स आदि के बाहर लगा रहा। रातभर रुकने के बाद रविवार की सुबह तीन बजे से ही संजय नदी घाट में शिव भक्तों की भीड़ उमड़ी रही।

Indian T20 League

शॉर्ट मे जानें सभी बड़ी खबरें और पायें ई-पेपर,ऑडियो न्यूज़,और अन्य सर्विस, डाउनलोड जागरण ऐप

kumbh-mela-2021