कोरोना की तीसरी वेव की आशंका को लेकर जिला प्रशासन की तैयारी फोटो-1

जासं,सिमडेगा:उपायुक्त सुशांत गौरव की अध्यक्षता में कोविड-19 टास्क फोर्स की बैठक का आयोजन हुआ। उपायुक्त ने आगामी कोरोना की तीसरी लहर की आशंका को देखते हुए स्वास्थ्य व्यवस्था को सु²ढ़ करते हुए सभी सात सीएससी सेंटर में 30 बेड डेडिकेटेड कोविड वार्ड की कार्रवाई की दिशा में विस्तृत समीक्षा की। इसमें से 10 बेड ऑक्सीजन सर्पोटेड रहेगा। एक साथ 32 ऑक्सीजन सिलैंडर सीएससी के पास रहेगा। साथ हीं बेड के पास ऑक्सीजन कन्सट्रेटर भी रहेगा।डीसी ने यह

भी कहा कि सीएससी केन्द्र में 10 बेड बच्चों के कोविड वार्ड के रूप में परिवर्तित किया जाएगा।उन्होंने कहा कि बच्चों के खेलने के लिए खिलौनी भी हो, जहां बच्चे खेल-खेल में कोविड के जंग को जीत सकें। इस दिशा में कार्रवाई सुनिश्चित करें। निर्बाध बिजली व्यवस्था को सु²ढ़ करने की दिशा में ससमय आवश्यक कार्रवाई पूर्ण कर लेने की बात कही।सिविल सर्जन को दो दिन में सरकारी दर पर एक हजार लीटर सैनिटाईजर क्रय करने की बात कही। उपायुक्त ने बताया कि कोरोना केस की कमी को देखते हुए आम-जन बिना नियमों का पालन किए सड़कों पर घूमते देखे जा रहे है। यह कतई बर्दाश्त नहीं की जाएगी। आए दिन अन्य शहरों में कोरोना के केस में वृद्धि देखी जा रही है, साथ हीं तीसरी लहर आने की भी संभावना व्यक्त की गई है।परंतु आए दिन नियमों का इस प्रकार उल्लघन को देख संक्रमण की संख्या में वृद्धि होने से नकारा नहीं जा सकता है। उन्होंने सभी थाना क्षेत्र, चौक-चौराहों, बाजार-हाट पर मास्क चेकिग अभियान चलाने का निर्देश दिया। पुलिस अधीक्षक को मास्क चेकिग अभियान की दिशा में थाना प्रभारी को आवश्यक दिशा-निर्देश देने की बात कही। उपायुक्त ने कहा टीकाकरण के प्रति बेहतर कार्य करने वाले लोगों को भी सम्मानित करने की बात कही।

Edited By: Jagran