जागरण संवाददाता, सिमडेगा। ठेठईटांगर से केरसई भाया बोलबा तक सड़क का निर्माण करा रही बर्बरीक कंपनी से रविवार को लेवी लेने आए 12 अपराधियों को पुलिस खदेड़कर पकड़ लिया। इस क्रम में अपराधियों ने चार राउंड गोली भी चलाई। सभी अपराधी डी कंपनी नामक आपराधिक संगठन से जुड़े हैं।

संगठन का सुप्रीमो दीपनारायण सिंह व जितेंद्र विश्वकर्मा भागने में सफल रहे। अपराधियों के पास से पुलिस ने चार कट्टा, 6 बम, 8 गोली, बारूद, 8 मोबाइल व सिम कार्ड, 2 गैलन पेट्रोल व बोलेरो (जेएच 07डी-6190) जब्त किया है। गिरफ्तार अपराधियों पर कोलेबिरा व बसिया के अलावा पश्चिम बंगाल में मामला दर्ज है। एसपी संजीव कुमार ने बताया कि डी कंपनी के सिमडेगा में पैठ बनाने की सूचना मिल रही थी।

जांच के दौरान जानकारी मिली की संगठन के अपराधी बर्बरीक कंपनी से लेवी लेने आने वाले हैं। इसके बाद डीएसपी नौशाद आलम, इंस्पेक्टर अरविंद कुमार सिंह, थाना प्रभारी रविशंकर सिंह के नेतृत्व में टीम का गठन कर कंपनी के शिविर के पास भेजा गया। जब अपराधी बोलेरो से राशि लेने पहुंचे तो पुलिस ने चारों ओर से उन्हें घेर लिया। पुलिस से घिरा देख अपराधी फायरिंग करते हुए भागने लगे लेकिन सभी को खदेड़ कर पकड़ लिया गया।