सिमडेगा, जेएनएन। झारखंड के सिमडेगा में भूख से बच्ची संतोषी की मौत के मामले में झारखंड सरकार ने केंद्र को रिपोर्ट भेज दी है। सरकार ने सिमडेगा के डीसी मंजूनाथ भजंतरी की जांच रिपोर्ट को आधार बनाया है। कहा, बच्ची की मौत मलेरिया से हुई है। 

इधर, सिमडेगा में राशन डीलर भोला साहू को सस्पेंड कर दिया गया है। साथ ही, प्रखंड आपूर्ति पदाधिकारी (बीएसओ) रमेश कुमार के सस्पेंशन की अनुशंसा की गई है। जिला आपूर्ति पदाधिकारी नंदजी राम ने इसकी पुष्टि की है।

उन्होंने कहा कि परिवार का आधार कार्ड नहीं बना था। उनके मुताबिक, लोग खुद से ही प्रज्ञा केंद्र में जाकर राशन कार्ड से आधार कार्ड जुड़वा सकते हैं। केंद्रीय टीम की रांची पहुंचने की सूचना है। टीम मामले की जांच करेंगी। इस घटना के विरोध में कांग्रेस आज समाहरणालय में धरना देगी। 

खाद्य, सार्वजनिक वितरण व उपभोक्ता मामले मंत्रालय के संयुक्त सचिव पीके तिवारी ने खाद्य, सार्वजनिक वितरण व उपभोक्ता विभाग के सचिव विनय कुमार चौबे के साथ बैठक की। वहीं, पीडीएस में डीबीटी की पड़ताल करने संयुक्त सचिव रांची के नगड़ी प्रखंड पहुंचे हैं।

सिमडेगा जिले में 11 साल की लड़की सिर्फ इसलिए भूख से तड़प-तड़प कर मर गई थी, क्योंकि उसका परिवार राशन कार्ड को आधार से लिंक नहीं करा पाया। संतोषी कुमारी नाम की इस लड़की ने आठ दिन से खाना नहीं खाया था, जिसके चलते बीते 28 सितंबर को भूख से उसकी मौत हो गई थी।

यह भी पढ़ेंः भूख से बच्ची की मौत पर गरमाई झारखंड की सियासत

Posted By: Sachin Mishra

डाउनलोड करें जागरण एप और न्यूज़ जगत की सभी खबरों के साथ पायें जॉब अलर्ट, जोक्स, शायरी, रेडियो और अन्य सर्विस