सरायकेला (जेएनएन)। हाता-चाईबासा मुख्य मार्ग स्थित राजनगर मुख्य बाजार में बस ठहराव पर सड़क किनारे खड़ी टाटा मैजिक से समानंतर दिशा से आ रही अनियंत्रित ट्रेलर रगड़ते हुए सट गया। जिससे टाटा मैजिक वाहन पर सवार लोग बाल बाल बच गए। वाहन में चार बच्चे समेत कुल 12 लोग सवार थे।

घटना करीब ग्यारह बजे की है। जानकारी के अनुसार चक्रधरपुर के जामटुटी गांव के लोग टाटा मैजिक वाहन से राजनगर थाना थाना क्षेत्र के गम्हरिया गांव पूजा के लिए आ रहे थे। टाटा मैजिक में चार बच्चे समेत कुल बारह लोग सवार थे। जिसमें चार महिला एवं दो पुरुष थे। राजनगर मुख्य बाजार पहुंचने पर बस पड़ाव में सड़क पर ही किनारे खड़ी कर पूजा सामग्री खरीद रहे थे।

बच्चे एवं महिलाए गाड़ी में ही बैठी थीं। तभी चाईबासा की ओर से आ रही आयरन ओर लदा ट्रेलर अनियंत्रित होकर खड़ी हुई टाटा मैजिक वाहन को रगड़ दिया। जिससे दोनों वाहन सट गए। गनीमत थी कि टाटा मैजिक वाहन पलटा नहीं और वाहन का शीशा भी बंद था। अगर वाहन से किसी का हाथ या सर बाहर निकला होता तो बड़ा हादसा हो सकता था।

आगे जा रही वाहन से टकरा कर अनियंत्रित हुआ ट्रेलर

बताया जा रहा है कि आयरन ओर लदा ट्रेलर उसके आगे जा रही किसी आज्ञत वाहन से टकरा गई। जिससे ट्रेलर के दाहिने ओर क्षतिग्रस्त हुआ हो गया। जिसके बाद ट्रेलर अनियंत्रित होकर बाईं ओर खड़ी टाटा मैजिक से रगड़ते हुए सट गई।   राजनगर मुख्य बाजार में अक्सर भीड़ भाड़ रहती है। फिर भी यहां बड़े वाहन तेज रफ्तार में पार होते हैं। लेकिन प्रशासन यहां वाहनों की रफ्तार को नियंत्रित करने की किसी तरह की उपाय नहीं कर रही है। जिससे आए दिन इस तरह की दुर्घटनाओं की आशंका बनी रहती है।

गुस्साए लोगों ने काफी देर तक मचाया हंगामा, पुलिस से उलझे

घटना के बाद टाटा मैजिक पर सवार आक्रोशित लोगों ने ट्रेलर चालक को पीटने के लिए वाहन से खींच कर उतारने की कोशिश की। दो चार हाथ लगाए ही थे कि तुरंत मौके पर पुलिस पहुंच गई।

चालक को पुलिस ने जैसे ही पीसीआर वाहन में बैठाया फिर आक्रोशित लोगों ने पुलिस वाहन से भी चालक को निकालने की कोशिश की। इस दौरान आसपास एवं आने जाने वालों की भीड़ जुट गई। कुछ देर तक आवागमन भी बाधित रहा। लेकिन टाटा मैजिक के आक्रोशित लोगों का गुस्सा थमने का नाम नहीं ले रहा था। वाहन में सवार पुरुष एवं महिलाएं पुलिस के साथ काफी देर तक उलझती रहीं।

ट्रेलर चालक को थाना ले जाने नहीं दे रहे थे। काफी देर तक गुस्साए लोग हंगामा करते रहे और पुलिस से उलझते रहे। महिलाओं ने पीसीआर वाहन के चालक से भी चाबी छिनने की भी कोशिश की। काफी देर तक तमाशा चलता रहा। अंततः एएसआई ने थाना प्रभारी जितेंद्र कुमार से अतिरिक्त बल भेजने की मांग की। मौके पर थाना प्रभारी जितेंद्र सिंह स्वयं बाइक से पहुंचे और लोगों को समझाने बुझाने के बाद शांत कराया। पुलिस ने ट्रेलर को जब्त किया।

Posted By: Vikas Srivastava

अब खबरों के साथ पायें जॉब अलर्ट, जोक्स, शायरी, रेडियो और अन्य सर्विस, डाउनलोड करें जागरण एप