जागरण संवाददातात, सरायकेला : सरायकेला-कांड्रा मार्ग पर प्रखंड कार्यालय के समीप मंगलवार की सुबह करीब सवा दस बजे तेज रफ्तार एक अज्ञात वाहन ने 36 वर्षीय युवक गणेश उरांव को रौंद दिया। जिससे उसकी मौके पर ही मौत हो गई। घटना की सूचना मिलते ही स्थानीय लोगों ने सड़क जाम कर दी।

गणेश उरांव खरसावां थानांतर्गत रायडीह टोला बांधडीह का रहने वाला था। वह सुबह गैस सिलेंडर लेने सरायकेला अपनी बाइक से आ रहा था। इस क्रम में घटना हो गई। इधर, सूचना मिलते ही सरायकेला थाना प्रभारी अविनाश कुमार पुलिस बल के साथ घटनास्थल पर पहुंचे। यहां पहुंचकर उन्होंने लोगों को समझाने का बहुत प्रयास किया। लेकिन लोग हटाने को तैयार नहीं हुए। इस पर पुलिस को हल्के बल प्रयोग करना पड़ा। इसके एक घंटे बाद यातायात सामान्य हुआ।

जानकारी के अनुसार टक्कर इतनी जोरदार थी गणेश मोटरसाइकिल समेत गिर गया। इसके बाद बाइक और गणेश को कुचलते हुए वाहन आगे निकल गया। दुर्घटना के बाद आसपास के लोग घटनास्थल पर जमा हो गए। आक्रोशित लोगों का कहना था कि इस सड़क पर आए दिन दुर्घटनाएं हो रही हैं। इसे रोकने को प्रशासन की ओर से कोई प्रयास नहीं किया जा रहा है। सड़क पर गति अवरोधक लगाने की मांग की जा चुकी है। फिर भी प्रशासन लगातार जनता की मांग को अनसुना कर रहा है। स्थानीय लोग सड़क दुर्घटनाओं पर अंकुश लगाने व मृतक के परिजनों को मुआवजा दिए जाने की मांग को लेकर सड़क पर डटे रहे। इधर जाम लगने से वाहनों की लंबी कतारें लग गईं। सरायकेला-कांड्रा मार्ग पर वाहनों की आवाजाही ठप हो गई। सूचना मिलते ही सरायकेला थाना प्रभारी अविनाश कुमार पुलिस बल के साथ तत्काल घटनास्थल पहुंचे और उन्होंने उचित कार्रवाई करने का भरोसा देते हुए सड़क जाम हटाने का आग्रह किया। लेकिन लोग नहीं माने। इस पर थाना प्रभारी ने हल्के बल का प्रयोग किया। लगभग एक घंटे बाद यातायात सामान्य हो सका।

मृतक के भांजे दिलदार उरांव ने बताया कि गणेश आदित्यपुर औद्योगिक क्षेत्र स्थित किसी कंपनी में काम करते थे। वे तीन भाई थे। मृतक के बड़े भाई कपितदेव उरांव के बयान पर सरायकेला पुलिस ने अज्ञात वाहन चालक के विरुद्ध तेज गति एवं लापरवाही से वाहन चलाते हुए दुर्घटना को अंजाम देने का मामला दर्ज किया गया। पुलिस ने शव को कब्जे में लेकर पोस्टमार्टम कराया। इसके बाद परिवारवालों को शव सौंप दिया।

Posted By: Jagran