संवाद सूत्र, खरसावां: ग्राम स्वराज अभियान के तहत कुचाई के आम बगान मैदान में आजीविका सह कौशल विकास मेला का आयोजन किया गया। कार्यक्रम का उदघाटन स्थानीय विधायक दशरथ गागराई, थाना प्रभारी राउतु होनहागा, बीस सूत्री प्रखंड अध्यक्ष दुलाल स्वांसी, जिला परिषद सदस्या जींगी हेंब्रम ने किया। कार्यक्रम को संबोधित करते हुए विधायक दशरथ गागराई ने कहा कि महिला सशक्तिकरण के लिए सखी मंडल काफी कारगर साबित हो रहा है। महिलाएं सखी मंडल व स्वंय सहायता समुहों से जुड़ कर स्वरोजगार से जुड़े। स्वरोजगार कर महिलाएं न सिर्फ स्वावलंबी बन सकती है, बल्कि परिवार व समाज के विकास में भी भागीदार बन सकती है। इससे महिलाएं क्षेत्र की आर्थिक उन्नति में भी सहायक बन सकती है। उन्होंने कहा कि सरकार के माध्यम से महिलाओं के उत्थान के लिए कई योजनाएं संचालित की जा रही है। आप सभी योजना का लाभ उठाकर स्वालंबन के राह पर चले।

जिप सदस्या जींगी हेंब्रम ने कहा कि सखी मंडल के महिलाओं को योजनाओं का लाभ लेकर अपने एवं गांव की तस्वीर बदलने का कार्य करें। बीस सूत्री प्रखंड अध्यक्ष दुलाल स्वांसी ने कहा कि बेटियों को पढ़ाएं, क्योंकि पढ़ी हुई बेटियों में स्वास्थ्य, संस्कार और स्वावलंबन की भावना का स्वत: ही विकास होता है। उन्होंने कहा कि केंद्र व राज्य सरकार महिला सशक्तिकरण के लिये कई योजनाएं चला रही है। बालिका शिक्षा पर जोर देते हुए कहा कि गरीबी से लड़ने का मूल मंत्र शिक्षा है। वर्तमान समय में महिलाओं की भूमिका अहम हो गई है। इसका लाभ उठाएं। कार्यक्रम को मुखिया वर्षा रानी बांकिरा, अनुराधा उरांव, कांता मुंडा, सीडीपीओ पूर्णिमा कुमारी, जेएसएलपीएस के रमेश प्रसाद आदि ने भी संबोधित किया। इस दौरान उत्कृष्ट कार्य करनेवाले एसएचजी, ग्राम संगठन व कार्यकर्ताओं को सम्मानित किया गया। कार्यक्रम में कुचाई के विभिन्न क्षेत्रों से करीब एक हजार महिलाएं पहुंची थी। इस दौरान महिला समितियों में बैंक लिंकेज के जरिए लोन भी दिया गया।

Posted By: Jagran

डाउनलोड करें जागरण एप और न्यूज़ जगत की सभी खबरों के साथ पायें जॉब अलर्ट, जोक्स, शायरी, रेडियो और अन्य सर्विस