संसू, आदित्यपुर : सरायकेला-खरसावां जिले के आदित्यपुर स्थित शेरे-ए-पंजाब चौक स्थित आदित्यपुर विकास समिति के कार्यालय में शुक्रवार को बिहार के पूर्व मुख्यमंत्री जननायक कर्पूरी ठाकुर की जयंती मनाई गई। आदित्यपुर नगर परिषद के पूर्व उपाध्यक्ष पुरेंद्र नारायण सिंह की अध्यक्षता में आयोजित कार्यक्रम में लोगों ने कर्पूरी ठाकुर के तस्वीर पर माल्यार्पण कर श्रद्धांजलि दी। पुरेन्द्र नारायण सिंह ने कहा कि एकीकृत बिहार में सर्वप्रथम कर्पूरी ठाकुर ने कमजोर वर्गो को सरकारी नौकरियों में 26 प्रतिशत का आरक्षण देने का काम किया। मुख्य अतिथि सेवानिवृत प्रखंड आपूर्ति पदाधिकारी रामाशीष राम ने कर्पूरी ठाकुर के कथन 'अधिकार पाना है, तो लड़ना सीखो, कदम कदम पर अड़ना सीखो और जीना है तो मरना सीखो' को दोहराते हुए पिछड़ों दलितों को एकजुट होकर अधिकारों के लिए संघर्ष करने का आह्वान किया। वक्ताओं ने केंद्र सरकार से जननायक कर्पूरी ठाकुर को भारत रत्‍‌न दिए जाने की माग की। मौके पर चंद्र भूषण शर्मा, वीरेंद्र यादव, उमाशकर राम, एसएन यादव, विजेंद्र प्रसाद, रघुनाथ प्रसाद सिंह, मनोज पासवान, प्रमोद गुप्ता, कातिलाल यादव, फूलेश्वर प्रसाद, जवाहर लाल सिंह, विनोद जयसवाल आदि थे।

Posted By: Jagran

डाउनलोड करें जागरण एप और न्यूज़ जगत की सभी खबरों के साथ पायें जॉब अलर्ट, जोक्स, शायरी, रेडियो और अन्य सर्विस