संवाद सूत्र, राजनगर : विश्व प्रकृति संरक्षण दिवस के अवसर पर बुधवार को मनरेगा अंतर्गत बिरसा हरित ग्राम योजना के तहत प्रखंड के विभिन्न पंचायतों में पौधारोपण कार्यक्रम किया गया। राजनगर में लक्ष्मी महतो की जमीन पर आम व आंवला के 48 पौधे लगाए गए। इस अवसर पर बतौर मुख्य अतिथि विधायक प्रतिनिधि धार्मा मुर्मू उपस्थित थे। धार्मा मुर्मू ने आम के पौधे लगाए। उन्होंने कहा कि फलदार पौधे हमें ऑक्सीजन व छाया देते हैं। साथ ही हमारे जीविकोपार्जन का साधन भी हैं। इससे किसान अच्छी आमदनी कर सकते हैं। सरकार बिरसा हरित ग्राम योजना के तहत गांव में ही लोगों को रोजगार प्रदान कर रही है। तीन साल के बाद आम के पौधे फल देना शुरू करेंगे। इससे पर्यावरण की सुंदरता बढ़ेगी। साथ ही शुद्ध ऑक्सीजन भी मिलेगा। मौके पर मनरेगा के बीपीओ मनोज, नरेश प्रमाणिक, पंचायत सेवक संतोष महतो, रोजगार सेवक मस्तान मुंडरी, सुनीता महतो, शेखर, ग्राम प्रधान रवि महतो, जेएसएलपीएस की को-ऑर्डिनेटर मेनुका महतो, नकुल महतो, करमु पान, मार्शल पूर्ति, लखिन्द्र लोहार, सागेन मुर्मू आदि उपस्थित थे। पौधारोपण कर बना सकते हैं प्रदूषण मुक्त वातावरण : प्रकृति संरक्षण दिवस के अवसर पर बुधवार को उपविकास आयुक्त प्रवीण कुमार गागराई ने पांचगछिया व कुचाई के तोडांगडीह गांव में पौधारोपण किया। बिरसा मुंडा हरित ग्राम योजना के तहत आम बागवानी लगा कर पानी डाला। खरसावां के पंचगछिया में आयोजित पौधारोपण कार्यक्रम में डीडीसी के अलावा सांसद प्रतिनिधि विजय महतो, जिप सदस्य कुंवर सिंह बानरा, प्रमुख नागी जामुदा, उप प्रमुख अमित केसरी, बीडीओ गौतम कुमार, एपीओ सरिता ओड़िया, रानो बास्के, बबलू महतो, अनूप सिंहदेव, मो खालिद खाद आदि उपस्थित थे। इस दौरान डीडीसी प्रवीण गागराई ने लाभुकों से संवाद भी किया। अधिकारियों को पौधारोपण में तेजी लाने के निर्देश दिए। साथ ही पौधों की देखभाल सही ढंग से करने के निर्देश दिए। उन्होंने कहा कि वृक्ष न सिर्फ पर्यावरण को शुद्ध करते हैं, बल्कि मानव जीवन के लिए भी उपयोगी हैं। उन्होंने कहा कि बेहतर पर्यावरण संतुलन के लिए पौधारोपण जरूरी है। तीरंदाजों ने किया पौधारोपण : विश्व प्रकृति संरक्षण दिवस के अवसर पर बुधवार को दामादिरी मैदान में सरायकेला-खरसावां जिला संघ के तीरंदाजों ने पौधारोपण किया। तीरंदाज शिव कुमार, समीर राउतिया, कृष्णा रविदास, रिकी बारिक व अर्चना हेंब्रम ने मैदान के किनारे पौधा लगा कर पौधों का संरक्षण करने का भी संकल्प लिया।

Edited By: Jagran