जेएनएन, ईचागढ़-नीमडीह : चांडिल अनुमंडल क्षेत्र के कुकड़ू व नीमडीह प्रखंड क्षेत्र में जंगली हाथियों का आतंक थमने का नाम ही नहीं ले रहा है। हाथी हर रात किसी न किसी गांव में घुसकर अनाज खाने की लालच में घर तोड़ रहे हैं। खेतों में तैयार फसल को भी रौंद रहे हैं। मंगलवार की देर रात को हाथियों ने हेसालौंग गाव के गुलाब महतो, किशुनडीह गाव के मोतीलाल महतोए व जानूम गाव के बलराम महतो, प्रभु महतो, नरु महतो के घर को तोड़ दिया। पीड़ित परिवार ने वन विभाग से मुआवजा राशि की मांग की है।

Posted By: Jagran

डाउनलोड करें जागरण एप और न्यूज़ जगत की सभी खबरों के साथ पायें जॉब अलर्ट, जोक्स, शायरी, रेडियो और अन्य सर्विस