जेएनएन,जमशेदपुर/खरसावां : पूर्व मुख्यमंत्री अर्जुन मुंडा ने कहा कि कुछ लोग निजी स्वार्थ व राजनीति साधने के लिए गांव के भोले-भाले लोगों के बीच भ्रम फैला रहे हैं। ऐसे लोगों से ग्रामीणों को सचेत रहने की आवश्यकता है। मुंडा ने कहा भाजपा के कार्यकर्ता गांव में जाकर सच्चाई से अवगत कराएं। भाजपा के कार्यकर्ताओं को यह सुनिश्चित करना है कि गांव के लोगों को कोई धोखा नहीं दे। पूर्व मुख्यमंत्री अर्जुन मुंडा खरसावां डाक बंगला मैदान में प्रखंड स्तरीय कार्यकर्ता सम्मेलन को संबोधित कर रहे

थे। मुंडा ने कहा कि हमें 21 वीं सदी का भारत बनाना है। देश को प्रगति के पथ पर आगे ले जाना है। मुंडा ने कहा कि उनके कार्यकाल में चौतरफा विकास के कार्य रहे थे। वर्तमान में क्या हो रहा है, यह सबके सामने है। आमदा के 500 बेड़ का अस्पताल को जिसे तक पूर्ण हो जाना चाहिए था, काफी धीमी गति से चल रहा है। सड़कें जर्जर हो रही है। सिल्क के क्षेत्र में प्रशिक्षण लेकर महिलाएं घर में बैठी हुई हैं। मुंडा ने कहा कि अधूरे कार्यों को पूरा करना है और खरसावां विधानसभा क्षेत्र को संवारना है। इसके लिए कार्यकर्ताओं को ग्राम निर्माण की दिशा में जुट जाना होगा। उन्होंने कार्यकर्ताओं से अभी से ही गांव में संगठन को मजबूत करने की दिशा में जुट जाने का आह्वान किया। मुंडा ने कहा कि कार्यकर्ता ही संगठन की पूंजी हैं। मुंडा ने कहा कि पद पर रहें या न रहें खरसावां की जनता व कार्यकर्ता के लिए रात 12 बजे भी उपलब्ध रहेंगे। कार्यकर्ता व जनता के साथ रह कार्य करते रहेंगे। विपक्षी दलों के महागठबंधन पर चुटकी लेते हुए मुंडा ने कहा कि वे तालमेल नहीं झालमेल की तैयारी कर रहे है। कार्यकर्ता सम्मेलन को

जिला प्रभारी सह राज्य अल्पसंख्यक आयोग के उपाध्यक्ष अशोक षाड़ंगी, जिलाध्यक्ष उदय ¨सहदेव, पूर्व विधायक मंगल सोय, मीरा मुंडा, शैलेंद्र ¨सह, बीस सूत्री जिला उपाध्यक्ष रामनाथ महतो, पूर्व विधायक सुखराम उरांव, सांसद प्रतिनिधि प्रदीप ¨सहदेव, लाल ¨सह सोय, मंजु बोदरा, रानी हेंब्रम, ज्ञानी साहू, लादुराम हेंब्रम ने भी संबोधित किया।

Posted By: Jagran