जागरण संवाददाता,साहिबगंज: जिले में इस साल गेहूं की अच्छी खेती हुई थी। अब फसल पक कर तैयार है लेकिन उसे काटने को मजदूर नहीं मिल रहे हैं। कोरोना व लॉकडाउन के भय से मजदूर घर से निकल ही नहीं रहे हैं। अगर निकलते हैं तो पुलिस उन्हें खदेड़ देती है। ऐसी स्थिति में गेहूं की फसल के खेत में ही बर्बाद होने की आशंका बढ़ गई है। इस साल जिले में कृषि विभाग की ओर से 13000 हेक्टेयर में गेहूं की खेती का लक्ष्य रखा गया था। जिसमें से 12110 हेक्टेयर में खेती की जा चुकी है। जिले में गेहूं की फसल अप्रैल के प्रथम सप्ताह में कटती लेकिन तीन चार दिनों से चल रही पछ़ुआ हवा ने फसल को पहले ही पका दिया है। जिले में मार्च के अंतिम सप्ताह से लेकर अप्रैल के दूसरे सप्ताह तक गेहूं की फसल कटने लगती है। इस साल भी किसान फसल काटने को लेकर बेचैन हैं।

----------------------

साहिबगंज के सामाजिक कार्यकर्ता एमटी राजा ने एसडीओ राजमहल को पत्र लिखकर बताया है कि जिले के साहिबगंज, राजमहल व उधवा प्रखंड में किसानों की ओर से लगाया गया गेहूं की फसल पेकर तैयार हो गया है। कोरोना को लेकर मजदूरों की आवाजाही लॉक डाउन होने केक कारण नहीं हो रही है। कृषि मंत्री के नाम से एसडीओ के माध्यम से लिखे पत्र में कहा है कि सोशल डिस्टेंसिग का पालन कराते हुए फसल कर काटने की अनुमति दी जाए। साहिबगंज के मदनशाही के किसान शिवजी ठाकुर ने बताया कि उनकी गेहूं की फसल पककर तैयार है अगर पुलिस प्रशासन काटने नहीं देगा तो खेत में ही झड़ जाएगा। वे भी बताते हैं कि पुलिस प्रशासन लोगों को घर से नहीं निकलने दी रही है। फसल कैसे कटेगा।

-----------------------

--------------

जिले में गेहूं की फसल लगभग पककर तैयार हो चुकी है। मार्च के अंतिम सप्ताह से अप्रैल के दूसरे सप्ताह तक किसान फसल कटनी करते हैं। किसानों को लॉक डाउन से क्षति हो सकती है क्योंकि 14 अप्रैल तक लॉक डाउन है। इसे देखते हुए जल्द ही गेहूं की फसल काटने का इंतजाम करना होगा।

डॉ. अमृत कुमार झा्, प्रधान वैज्ञानिक, केबीेके साहिबगंज

-----------------

किसानों की गेहूं की फसल काटने पर रोक नहीं है। केंद्र सरकार की ओर से इसको लेकर पत्र जारी किया गया है। परंतु लॉक डाउन को देखते हुए किसानों को सोशल डिस्टेंसिग का पालन करना होगा। यह किसानों के हित में ही होगा। किसान कृषि कार्य कर सकते हैं। राज्य कर कृषि सचिव पूजा सिघल का भी इस प्रकार का आदेश है।

उमेश तिर्की, जिला कृषि पदाधिकारी, साहिबगंज

Posted By: Jagran

डाउनलोड करें जागरण एप और न्यूज़ जगत की सभी खबरों के साथ पायें जॉब अलर्ट, जोक्स, शायरी, रेडियो और अन्य सर्विस