संवाद सहयोगी, बोरियो : बोरियो धोबी टोला में शनिवार को मच्छरदानी वितरण के क्रम में सहिया माला देवी एवं उनके पुत्र के साथ मारपीट की गई। सहिया ने पुनू रजक पर मारपीट करने व कान की बाली छीन लेने का आरोप लगाते हुए प्राथमिकी दर्ज करने के लिए थाने में आवेदन दिया है। पुलिस मामले की जांच-पड़ताल कर रही है।

बताया जाता है कि स्वास्थ्य विभाग की ओर से डॉ. सुदामा साह के नेतृत्व में कोविड-19 की आरटीपीसीआर जांच के लिए कैंप लगाया गया था। इस दौरान मच्छरदानी का वितरण भी किया जा रहा था। मोहल्ले के पुनू रजक ने परिवार के सभी सदस्यों का अलग-अलग मच्छरदानी की मांग की। सहिया माला देवी का कहना था कि सर्वे के अनुसार एक परिवार में एक ही मच्छरदानी का वितरण का प्रावधान है। इसी बात को लेकर बात बढ़ गई एवं मामला मारपीट तक पहुंच गया। स्वास्थ्य विभाग ने पुलिस को सूचना दी। थाना प्रभारी जगरन्नाथ पान, अनि उमेंद्र प्रसाद, एएसआइ उमेश सिन्हा धोबी टोला पहुंच कर मामले की छानबीन की। दोनों पक्षों को समझा-बुझा कर मामला शांत कराया। पुनु रजक को थाना लाकर पूछताछ की जा रही है।

सहिया माला देवी ने बोरियो थाना में आवेदन देकर सरकारी काम में बाधा डालने, जान से मारने की नीयत से उसके साथ मारपीट कर कान से बाली छीन लेने का आरोप लगाते हुए थाने में आवेदन दिया है। थाना प्रभारी ने बताया कि मामले की जांच की जा रही है। इस मौके पर मेडिकल टीम के डॉ. सुदामा साह, एमपीडब्ल्यू विमल ओझा आदि थे।