तालझारी (साहिबगंज) : राजमहल प्रखंड के मंगलहाट स्थित मुगलकालीन ऐतिहासिक धरोहर जामा मस्जिद एवं बाराद्वारी के ऐतिहासिक महत्व को जानने व समझने के लिए दर्जनों विदेशी पर्यटक पहुंच रहे हैं। गुरुवार शाम अमेरिका, ऑस्ट्रेलिया, इंग्लैंड आदि जगहों के पर्यटक यहां पहुंचे। इन्हें देखने के लिए स्थानीय लोग भी पहुंच गये। मौके पर पांडव नामक संस्था के गाइड देवरथ ने बताया कि भारत वर्ष में ऐतिहासिक एवं धार्मिक स्थलों की कमी नहीं है। विदेशी पर्यटकों को भारत के विभिन्न हिस्सों में घूमना काफी पसंद है। जब भी उन्हें मौका मिलता है तो साल दो साल में भारत के ऐतिहासिक धरोहर को देखने और समझने के लिए वे अवश्य आते हैं। उन्होंने कहा कि ऐसे ऐतिहासिक धरोहर को और अधिक सौंदर्यीकरण कराने की आवश्यकता है ताकि देश-विदेश से आने वाले पर्यटकों को अपनी ओर आकर्षित कर सके। विदित हो कि ऑस्ट्रेलिया के पांडव नामक एक संस्था की देखरेख में यहां सालों भर विदेशी पर्यटकों का आवागमन होता है। खासकर दिसंबर से मार्च तक विदेशी पर्यटकों का आवागमन अधिक होता है। साथ ही देश के विभिन्न हिस्सों से भी हर रोज दर्जनों लोग यहां घूमने एवं नववर्ष को सेलिब्रेट करने के लिए आते है।

Posted By: Jagran

डाउनलोड करें जागरण एप और न्यूज़ जगत की सभी खबरों के साथ पायें जॉब अलर्ट, जोक्स, शायरी, रेडियो और अन्य सर्विस