मंडरो (साहिबगंज) : मिर्जाचौकी थाना क्षेत्र से रविवार की रात पुरुष मित्र के साथ मेला देखकर लौट रही एक आदिवासी नाबालिग किशोरी के साथ छह युवकों ने सामूहिक दुष्कर्म किया और दोस्त को मारपीट कर वहां से भगा दिया। दोस्त ने गांव पहुंचकर ग्रामीणों को घटना की जानकारी दी। सूचना पर पहुंचे ग्रामीणों को आता देख पांच आरोपी वहां से भाग निकले, जबकि एक को मौके पर पकड़ कर पुलिस के हवाले कर दिया गया। पुलिस ने पीड़िता को मेडिकल जांच के लिए सदर अस्पताल साहिबगंज भेज दिया है।

मिर्जाचौकी थाना में दिए गए आवेदन में पीड़िता ने बताया कि रविवार देर रात दोस्त के साथ मेला देखकर घर लौट रही थी। गांव के समीप सुनसान जगह पर पहले से घात लगाकर बैठे छह युवक जबरन उठाकर पहाड़ की झाड़ी में ले गए। इसके बाद उसके दोस्त को मार कर भगा दिया, फिर सभी ने बारी-बारी से दुष्कर्म किया। जानकारी मिलने पर मिर्जाचौकी थाना प्रभारी रामानुज कुमार वर्मा घटना स्थल पर पहुंचे और पकड़े गए दिव्यांग नाबालिग आरोपी को हिरासत में ले लिया। पीड़िता के बयान पर मिर्जाचौकी थाना में मामला दर्ज किया गया है। जिसमें गडरा गांव के समीम अंसारी (30), मोकिम अंसारी (22) व अयूब अंसारी (19) सहित कुल छह को आरोपी बनाया गया है। आरोपियों में तीन नाबालिग किशोर भी शामिल हैं। एसपी पी. मुरूगन ने सोमवार को मिर्जाचौकी थाना पहुंच कर घटना के बारे में पूछताछ की। बताया कि पुलिस मामले की गंभीरतापूर्वक जांच कर रही है, जल्द ही सभी आरोपियों को पकड़ा जाएगा।

Posted By: Jagran

डाउनलोड करें जागरण एप और न्यूज़ जगत की सभी खबरों के साथ पायें जॉब अलर्ट, जोक्स, शायरी, रेडियो और अन्य सर्विस