साहिबगंज : जिला विधिक सेवा प्राधिकार के तत्वावधान में राष्ट्रीय कानून साक्षरता मिशन के तहत गुरुवार को सदर अस्पताल के प्रागण में चलंत लोक अदालत सह विधिक जागरूकता शिविर का आयोजन किया गया। इसमें प्राधिकार के सचिव मनोरंजन कुमार ने कहा कि मौलिक अधिकार लोगों के लिए ऑक्सीजन की तरह होता है। इससे व्यक्ति को जीने तथा सामाजिक सुरक्षा एवं समानता के अधिकार मिलता है। इसकी जानकारी हर व्यक्ति को होना आवश्यक है ताकि अपने अधिकार एवं कर्तव्य के प्रति जागरूक हो सके। सिविल कोर्ट परिसर में जिला विधिक सेवा प्राधिकार कार्यालय का संचालन होता है। यहां पीड़ित व्यक्ति अपनी समस्याओं को लिखित रूप से दे सकते हैं। आवेदन पर कार्यालय के द्वारा तुरंत कार्रवाई की जाती है। निश्शुल्क कानूनी जानकारी एवं निश्शुल्क अधिवक्ता व कोर्ट फी आदि उपलब्ध कराया जाता है। इस दौरान स्थाई लोक अदालत के सदस्य शिव शकर दुबे ने कहा कि स्थाई लोक अदालत में जनउपयोगी समस्या के बाबत प्री लिटिगेशन वाद दायर कर सकते हैं । चलंत लोक अदालत का आज आखिरी दिन था। साहिबगंज अनुमंडल न्यायिक क्षेत्र में लगातार 15 दिनों से चलंत लोक अदालत सह विधिक जागरूकता शिविर का आयोजन किया गया जिससे अलग-अलग ब्लॉकों में कानूनी जानकारी उपलब्ध कराया गया इसे काफी लोगों को फायदा पहुंचा है और लोगों को कानून से संबंधित जानकारिया उपलब्ध कराई गई है। आने वाले समय में लोगों को कोई व्यक्ति बहला-फुसला नहीं सकते हैं और ना ही उसे दिग्भ्रमित कर अपराध की ओर अग्रसारित कर सकते हैं। मौके पर अधिवक्ता नवीन निर्माण, नीरज रामेश्वरम एवं पीएलवी सुनील कुमार यादव, बंदना कुमारी, शीला बास्की सहित सदर अस्पताल के चिकित्सक उपस्थित थे।

इंडियन टी20 लीग

डाउनलोड करें जागरण एप और न्यूज़ जगत की सभी खबरों के साथ पायें जॉब अलर्ट, जोक्स, शायरी, रेडियो और अन्य सर्विस