संवाद सहयोगी, साहिबगंज: रसूलपुर दहला में शनिवार की देर शाम जमीन विवाद में दो पक्षों में मारपीट हो गई। इस मामले में दोनों पक्षों ने नगर थाने में प्राथमिकी दर्ज कराई गई है।

पहला पक्ष रसूलपुर दहला निवासी राजा ने आवेदन में जिक्र किया है कि 31 जुलाई की संध्या पांच अपने घर पर मजदूरों से काम करवा रहा था। इसी दौरान श्यामसुंदर पोद्दार, नागेश्वर पोद्दार, रंजय पोद्दार, कमलेश्वर पोद्दार, विनोद कुमार ठाकुर उर्फ लाल ठाकुर सहित 10 से 12 अज्ञात व्यक्ति हथियार से लैस होकर घर घुस गया। श्याम सुंदर पोद्दार ने अपने आदमियों के साथ मिलकर राड, लाठी, फाइट से मारकर अध मारा कर दिया। साथ ही घर में रखे के नगद एक लाख व तीन लाख के जेवर भी साथ लेकर चले गए। थाने को सूचना दी तो दरोगा ने इलाज के लिए सदर अस्पताल भेजा। उसने अपनी जान-माल की रक्षा के लिए न्याय की गुहार लगाई है।

वहीं दूसरे पक्ष के सीपीएम नेता श्याम सुंदर पोद्दार ने नगर थाने में आवेदन दिया है। इसमें बताया कि 2018 में उसने पठानिया टोला निवासी गुलाब मोदी को 16 लाख रुपये से मकान को खरीदा था। उसके मन में छल आ गई और वह घर के कागजात बनाने को लेकर बार-बार समय लेता रहा। इस बीच कई बार स्थानीय लोगों के स्तर से पंचायत भी कराई गई। पंचायत के लोगों ने गुलाब मोदी को अपना मकान श्याम सुंदर पोद्दार के नाम करने के लिए निर्णय भी सुनाया था। परंतु इन दिनों गुलाब मोदी अपने पुत्रों के सहयोग से मेरे ऊपर दबाव बना रहा था कि मकान नहीं देंगे। इसी बीच में सूचना पाकर मकान आया और कागजात की मांग की तो गुलाम मोदी अपने पुत्रों के सहयोग से अन्य लोगों की मदद ले कर मेरे ऊपर जानलेवा हमला कर दिया। यदि समय पर पुलिस नहीं पहुंचती तो मेरी हत्या हो सकती थी। श्याम सुंदर पोद्दार ने नौ लोगों को आरोपित बनाया है। इसमें वार्ड पार्षद पति विक्रम दास, भोला शर्मा, संजीव शर्मा, छोटू कुमार, पवन कुमार दास, राजू शर्मा, गुलाब प्रचार मोदी, काजू प्रसाद मोदी संजय, कुमार मोदी है। इस संबंध में नगर थाना प्रभारी सुनील कुमार ने बताया की घटना का सूचना मिलते ही पुलिस बल पहुंची। श्यामसुंदर पोद्दार को घायल अवस्था में थाना लाकर इलाज के लिए भेजा गया। दोनों पक्षों ने आवेदन दिया है। फिलहाल पुलिस मामले की छानबीन कर रही है।

Edited By: Jagran