संवाद सहयोगी, कोटालपोखर (साहिबगंज) : नया पलासबोना गांव में मंगलवार को धारदार हथियार से गला रेतकर रेजाउल हक को जख्मी कर दिया। उसके भाई तंजाउल शेख के बयान पर मकान मालिक 75 वर्षीय मतीन शेख सहित अन्य के विरुद्ध कोटालपोखर थाने में प्राथमिकी दर्ज की गई है। थाना प्रभारी शिवकुमार सिंह ने बताया कि मतीन शेख और अन्य तीन-चार लोगों पर हत्या की कोशिश का आरोप लगाया है। तंजाउल ने आवेदन में जिक्र किया है कि जान से मारने की नीयत से उसके भाई रेजाउल हक का धारदार हथियार से गला रेता गया। मकान भाड़ा को लेकर विवाद चल रहा था।

बता दें कि मंगलवार को थाना क्षेत्र के नया पलासोना गांव में रजाई-गद्दा बनाने वाले रेजाउल हक को उसकी ही दुकान में घायल अवस्था में उनके पिता सुल्तान शेख ने पाया था। वह बरहड़वा थाना क्षेत्र के मधुवापाड़ा गांव का रहने वाला है। हर दिन की भांति दोपहर में खाना खाने के लिए रेजाउल हक जब घर नहीं गया तो उनका पिता सुल्तान शेख लगभग तीन बजे खाना लेकर दुकान पहुंचे। दुकान में रेजाउल को खून से लथपथ देखा। आनन फानन में उसे बरहड़वा सामुदायिक स्वास्थ्य केंद्र ले गया जहां प्राथमिक उपचार के बाद बंगाल के बोहरमपुर नर्सिंग होम ले गए। चिकित्सक के अनुसार अब वह खतरे से बाहर है। उधर, इस मामले में पुलिस कुछ लोगों को हिरासत में लेकर पूछताछ कर रही है। हालांकि पुलिस इसकी पुष्टि नहीं कर रही है।

इधर, 75 वर्षीय बुजुर्ग पर हत्या की कोशिश का आरोप लगने के बाद क्षेत्र में तरह-तरह की चर्चा हो रही है। घनी आबादी के बीच स्थित दुकान में इतनी बड़ी घटना होने के बावजूद आसपास के लोगों का भनक तक नहीं लगना भी चर्चा का विषय बना हुआ है। पुलिस रेजाउल हक के होश में आने का इंतजार कर रही है। तंजाउल शेख का कहना है कि आरोपित अपनी लड़की की शादी करने का दबाव उसके भाई रेजाउल पर बना रहा था। एसडीपीओ राजेंद्र कुमार दुबे ने बताया कि घटना के हर एंगल पर पुलिस जांच कर रही है।

Edited By: Jagran