संवाद सहयोगी, बोरियो (साहिबगंज) : शिबू सोरेन डिग्री कालेज में सोमवार को रेवांशा विश्वविद्यालय ओड़िशा से आनलाइन कम्युनिकेटिव इंगलिश शाफ्ट स्कील एंड पर्सनालिटी डेवलपमेंट का कोर्स करनेवाले छात्र-छात्राओं के बीच प्रमाणपत्र का वितरण किया गया।

कार्यक्रम का उद्घाटन सिदो-कान्हू मुर्मू विश्वविद्यालय, दुमका की कुलपति डा. सोना झारिया मिज व स्थानीय विधायक लोबिन हेंब्रम ने संयुक्त रूप से दीप जलाकर किया।

यहां कुलपति ने कहा कि कोविड-19 के कारण हुए लाकडाउन में कालेज के छात्र-छात्राओं ने आनलाइन पढ़ाई की। इसमें नेटवर्क भी बाधक बना फिर भी छात्रों ने क्लास रूम के बाहर की पढ़ाई की। वीसी ने कहा कि कालेज के छात्र-छात्राओं का क्लास रूम के बाहर भी पढ़ाई बेहतर तरीके से हो यह उसका प्रयास होना चाहिए। इसके लिए शिक्षकों को टीचिग लेवल बेहतर करनी होगी। शिक्षा के बेहतर परिणाम के लिए कोचिग करने की सलाह कालेज शिक्षकों को दी।

उन्होंने कहा कि शिक्षा एक प्रयोग की तरह चल रही है। जिन विषयों का संसाधन कालेज में नहीं है उसमें नामांकन न लें। जिन विषयों के संसाधन हैं उन्हें ही बेहतर करें। वीसी ने कहा कि कालेज में किताबी शिक्षा के साथ-साथ खेलकूद, एनएसएस यूनिट होनी चाहिए। इस कालेज के छात्र-छात्राएं स्टेट लेवल पर खेल में भाग लें ताकि यहां का नाम हो। समारोह को विधायक लोबिन हेंब्रम ने भी संबोधित किया। मौके पर विशाल टेक्नोलॉजी ओड़िशा के निदेशक दिलीप मंगराज, रेवांशा विश्वविद्यालय ओड़िशा के वरिष्ठ प्राध्यापक डा. उल्लास प्रधान, विश्वविद्यालय प्रतिनिधि सह साहिबगंज कॉलेज के सहायक प्राध्यापक डा. रणजीत कुमार सिंह, सांसद प्रतिनिधि संजीव सामु, प्रो. मनीष सिन्हा, प्रो. स्नेहलता मरांडी, प्रो. मेरी सोरेन, प्रो. नागराज राय, खेल शिक्षक दीपक कुमार, रवि साह, भोला साह, मो. मनोवर आलम, सोनी कुमारी, सोनिया टुडू, भरत मुर्मू आदि थे। समारोह की अध्यक्षता प्रभारी प्राचार्य प्रो. बीएन ठाकुर ने की। संचालन प्रो. नजरूल इस्लाम ने किया। मुख्य अतिथि के यहां पहुंचने पर उनका स्वागत छात्राओं ने हिन्दी एवं संथाली में स्वागत गीत गाकर किया। मुख्य अतिथि को कालेज गेट से मंच तक पैदल चलकर आदिवासी रीति-रिवाज से छात्र- छात्राओं ने संथाली नृत्य कर किया। समारोह में मंच पर उपस्थित अतिथियों को शॉल ओढ़ाकर, बुके एवं मोमेंटो देकर सम्मानित किया गया।

कालेज की वेबसाइट का किया शुभारंभ

बोरियो : बोरियो शिबू सोरेन जनजातीय डिग्री कालेज की बेवसाइट, आनलाइन डिजिटल लाईब्रेरी एवं आइएसओ सर्टिफिकेशन कोर्स का आनलाइन उद्घाटन कुलपति डा. सोना झरिया मिज ने किया।

Edited By: Jagran