संवाद सहयोगी, बरहेट/साहिबगंज : महिला थाना प्रभारी रूपा तिर्की की मौत की सीबीआइ जांच की मांग को लेकर भाजपा नेताओं ने शुक्रवार को अपने-अपने घरों में धरना दिया। कहा कि जब तक मामले की निष्पक्ष जांच नहीं हो जाती है तब तक वे लोग चुप नहीं बैठेंगे।

वरिष्ठ भाजपा नेता गणेश तिवारी ने भी अपने घर में धरना दिया। उन्होंने कहा कि रूपा तिर्की बहुत ही ईमानदार व कर्तव्यपरायण पुलिस पदाधिकारी थीं। जिस परिस्थिति में उसका शव मिला है वह संशय उत्पन्न करता है। इसलिए मुख्यमंत्री हेमंत सोरेन को मामले की निष्पक्ष जांच के लिए सीबीआइ को सौंप देना चाहिए। भाजपा महिला मोर्चा की प्रदेश उपाध्यक्ष रेणुका मुर्मू ने भी अपने आवास में धरना दिया। उन्होंने कहा कि रूपा तिर्की की मौत की जांच सीबीआइ से जल्द से जल्द होनी चाहिए। कहा कि भाजपा महिला मोर्चा इस घटना की कड़ी निदा करती है तथा दोषियों को फांसी की मांग की करती है। कहा कि जिले की तेजतर्रार महिला अफसर के साथ इस तरह की घटना होने के बाद पुलिस प्रशासन की जांच अब तक आगे नहीं बढ़ पाई है। भाजपा महिला मोर्चा की जिला अध्यक्ष रमिता तिवारी ने कहा कि भाजपा प्रदेश के निर्देशानुसार साहिबगंज महिला थाना प्रभारी रूपा तिर्की की मौत की सीबीआइ जांच की मांग को लेकर सभी मंडलों में कार्यकर्ताओं ने धरना दिया। मौके पर सुशीला किस्कू, मालोटी हांसदा, शिबानी कुमारी, मरंगमोई मुर्मू आदि उपस्थित थे।

---------

लोबिन हेंब्रम ने दी आमरण अनशन की चेतावनी

संस, साहिबगंज : रूपा तिर्की की मौत की सीबीआइ जांच न होने पर बोरियो विधायक लोबिन हेम्ब्रम ने आमरण अनशन की चेतावनी दी है। विधायक ने शुक्रवार को बताया कि उन्होंने इस मामले में मुख्यमंत्री हेमंत सोरेन से बात की है। मामले की सीबीआइ जांच का आग्रह उन्होंने किया है। उन्हें उम्मीद है कि मुख्यमंत्री जल्द ही मामले की सीबीआइ जांच का आदेश देकर रूपा तिर्की की मां और परिवार के अन्य सदस्यों की भावना का सम्मान करेंगे। उन्होंने कहा कि तेज-तर्रार, कर्तव्य परायण युवा पुलिस आफिसर रूपा तिर्की युवा आदिवासियों के लिए प्रेरणास्त्रोत थी। ऐसे में मामले की सीबीआइ जांच होने से लोगों के मन में उठ रही आशंकाओं पर विराम लगेगा। सीबीआइ जांच का आदेश न होने पर मुझे भी अनशन व फिर आमरण अनशन पर बैठने को मजबूर होना होगा।

----------

दोषियों को मिले कड़ी से कड़ी सजा

संस, तीनपहाड़ : भाजपा ओबीसी मोर्चा की राष्ट्रीय मंत्री कृष्णा महतो ने भी महिला थाना प्रभारी रूपा तिर्की की मौत की सीबीआइ जांच की मांग की है। उन्होंने कहा कि जहां अभी तक पुलिस इसे आत्महत्या का रूप मान रही हैं वहीं स्वजनों ने कुछ लोगों पर हत्या का आरोप लगाते हुए पुलिस अधीक्षक को आवेदन भी दिया है। परिस्थितिजन्य साक्ष्य भी हत्या की तरफ इशारा कर रही है। यह एक आदिवासी की बेटी और पुलिस पदाधिकारी की हत्या है। कृष्णा महतो ने बताया कि महिला थाना प्रभारी रूपा तिर्की की मौत की जांच सीबीआइ से कराई जाए। जांच में दोषी पाए जाने वालों को कड़ी से कड़ी सजा दी जाए ताकि इस तरह की घटना की पुनरावृत्ति नहीं हो।

Edited By: Jagran