जागरण संवाददाता, साहिबगंज: विधान सभा आम चुनाव को लेकर गुरुवार को पीठासीन पदाधिकारियों का अंतिम प्रशिक्षण रेलवे प्रशाल स्कूल, संध्या महाविद्यालय तथा राजस्थान इंटर कॉलेज साहिबगंज में आयोजित किया गया। प्रशिक्षण का उद्देश्य पदाधिकारियों को निर्वाचन प्रक्रिया से संबंधित किसी भी संशय को दूर करना था। जिला में एक 1006 मतदान केन्द्रों में प्रतिनियुक्त पीठासीन पदाधिकारियों को ईवीएम के बीयू, कन्ट्रोल यूनिट एवं वीवीपैट के कार्य प्रणाली एवं उसे आपस में किस प्रकार जोड़ा जाए के बारे में विस्तार से जानकारी दी गई। पीठासीन पदाधिकारियों को मतदान केन्द्रों में उनके कर्तव्य एवं कार्यो के बारे में जानकारी दी गई। मॉक पोल, टेंडर वोट, चैलेंज वोट, सिलिग आदि की विस्तार से जानकारी दी गई। साथ ही पीठासीन पदाधिकारी को पी 1 अन्य पदाधिकारी के साथ समन्वय बनाकर कार्य करने का निर्देश दिया गया। प्रशिक्षण में जिला योजना पदाधिकारी राम निवास प्रसाद सिंह ने भी चुनाव कर्मियों को अपने दायित्वों के बारे में बताया। सुव्यवस्थित मतदान संपन्न कराने हेतु मतदान कर्मियों को निम्न निर्देश दिया।

-------------------------

पीठासीन पदाधिकारियों को बताया गया कि

- अपने-अपने कलस्टर से मतदान तिथि 20 दिसंबर के दिन प्रात: 5 बजे संबंधित बूथ पर पहुंच जाएंगे।

- पूर्वाहन 06:45 बजे तक मॉक पोल कर लेना है।

- मॉकपोल के बाद इरेज बटन निश्चित रूप से दबायेंगे।

- 7 बजे से पोलिग शुरू कराना सुनिश्चित करेंगे।

- हर 2 घंटे पर मतदान कर्मी अपने बूथ का रिपोर्ट संबंधित पदाधिकारी को भेजना सुनिश्चित करेंगे।

- मतदान के दौरान वीवीपैट खराब होने पर सिर्फ वीवीपैट ही बदला जाएगा।

- सीयू,बीयू खराब होने पर तीनों बदलें जाएंगे

- नए सीयू,बीयू में नोटा सहित सभी उम्मीदवारों का मॉक पोल कराना सुनिश्चित करेंगे।

- मतदान कार्य के समाप्ति के उपरांत क्लोज बटन जरूर दबायें

-------------------------

सभी मतदानकर्मियों को निर्देश दिया गया कि वे मतदाताओं के समक्ष अपना उत्तम आचरण बनाए रखेंगे साथ ही मतदान की गोपनीयता भी सुनिश्चित करायेंगे। मतदान कार्य के समाप्ति के उपरांत उसी दिन सभी मतदान कर्मी वापस रिसिविग सेंटर साहिबगंज स्थित लोहंडा में अपनी उपस्थिति दर्ज कराना सुनिश्चित करेंगे। मतदान समाप्ति के उपरांत सभी मतदान कर्मी अपने पीठासीन अधिकारी के साथ रिसिविग सेंटर मतदान सामग्री जमा कराने आएंगे।

पीठासीन अधिकारी के आदेश के बिना कोई भी मतदान कर्मी (पी1,पी2,पी3) विरमित नहीं होंगे। सभी मतदान सामग्री जमा हो जाने के उपरांत पीठासीन अधिकारी के आदेश पर मतदान कर्मी विरमित होंगे। पीठासीन अधिकारी के आदेश की अवहेलना पर संबंधित मतदानकर्मी पर प्राथमिकी दर्ज की जाएगी ।

इस दौरान जिला आपूर्ति पदाधिकारी श्री बंकाराम, कार्यपालक दंडाधिकारी मिथिलेष कुमार झा, जिला योजना पदाधिकारी रामनिवास प्रसाद सिंह अलग अलग केंद्रों पर मौजूद रहे। प्रशिक्षक के रूप में विभिषण पासवान, उज्जवल कुमार बनर्जी, विधुनाथ आचार्य, कैलाश वर्मा, रमेश पासवान, वेद प्रकाश गुप्ता, संजीव कुमार साह, रमेश कुमार झा, रमेश पासवान, प्रियनाथ तिवारी, जयप्रकाश तुरी, सुभाशिष एवं अन्य थे।

डाउनलोड करें जागरण एप और न्यूज़ जगत की सभी खबरों के साथ पायें जॉब अलर्ट, जोक्स, शायरी, रेडियो और अन्य सर्विस