पाकुड़: महिलाएं किसी भी क्षेत्र में पुरूषों से कम नहीं। यह एक बार फिर पाकुड़ जिले की महिला कर्मी साबित करने जा रही हैं। दरअसल, राजमहल लोकसभा क्षेत्र के पाकुड़ जिले में यह पहली बार होगा जब किसी चुनाव में महिला कर्मियों के जिम्मे 27 मतदान केंद्र होंगे। यहां मतदानकर्मी और अधिकारी के साथ-साथ सुरक्षा की कमान भी महिलाओं के जिम्मे ही होगी।

महिला मतदान केंद्रों पर 28 हजार मतदाता करेंगे वोट : राजमहल लोकसभा क्षेत्र में कुल 2040 मतदान केंद्र हैं। इसमें पाकुड़ जिले के 813, दुमका जिले की 40 तथा साहिबगंज जिले के 101 मतदान केंद्रों पर मतदान कराने की जिम्मेदारी पाकुड़ जिले को मिली है। इसमें पाकुड़ जिले के 27 मतदान केंद्रों की कमान पूरी तरह महिला चुनावकर्मियों व अधिकारियों के हाथों में होगी। प्रत्येक मतदान केंद्र पर चार महिलाकर्मी मतदान प्रक्रिया में हिस्सा लेंगी। महिला मतदान केंद्रों पर करीब 28 हजार मतदाता वोट करेंगे। 201 मतदान केंद्र बढ़ गए :

गौरतलब है कि पाकुड़ जिला प्रशासन पूर्व के चुनावों में जिले में पड़ने वाले 813 मतदान केंद्रों में व्यवस्था का जिम्मा संभालता था। पहली बार निर्वाचन आयोग ने जिले की तीनों विधानसभा के मतदान केंद्र की जिम्मेदारी पाकुड़ प्रशासन को दे दी। इससे जिले में 201 मतदान केंद्र बढ़ गए। निर्वाचन कार्य में जुटे अधिकारी का कहना है कि चुनाव आयोग के निर्देश पर महिला मतदान केंद्र बनाए जा रहे हैं। महिला मतदान केंद्र

------------------

विधानसभा ----------- महिला मतदान केंद्रों की संख्या

पाकुड़ -------------------- 12

लिट्टीपाड़ा ---------------- 9

महेशपुर ------------------ 6 कोट

------------

जिले की 27 मतदान केंद्रों पर सभी मतदान अधिकारी महिलाएं होंगी। यहां सुरक्षा में अधिकतर महिला पुलिस को देने की कवायद की जा रही है। सभी केंद्रों पर सुरक्षा के पुख्ता इंतजाम होंगे।

रामनिवास यादव

नोडल पदाधिकारी, जिला निर्वाचन कोषांग, पाकुड़

Posted By: Jagran

डाउनलोड करें जागरण एप और न्यूज़ जगत की सभी खबरों के साथ पायें जॉब अलर्ट, जोक्स, शायरी, रेडियो और अन्य सर्विस