कोटालपोखर (साहिबगंज) : बरहड़वा प्रखंड क्षेत्र की बड़ा सोनाकड़ पंचायत के दुधिजोल गांव में बसे गुलगुलिया के एक ही परिवार के तीन बच्चों की मौत खसरा से होने के बाद शुक्रवार को 10 लोगों का सैंपल कोरोना जांच के लिए लिया गया।

उपायुक्त वरुण रंजन, आरक्षी अधीक्षक अमन कुमार, डीआरडीए पदाधिकारी  मंजूरानी स्वांसी, सिविल सर्जन डॉ. डीएन सिंह आदि गांव में पहुंचे थे।

डीसी ने बच्चे के पिता बम्बे चौधरी, माता पायल देवी से बीमारी के संबंध में पूछताछ की। साथ ही एक ही परिवार के तीन बच्चों के मरने पर चिता व्यक्त की।

डीसी ने अन्य गुलगुलिया परिवार से भी हालचाल जाना तथा वहां कैंप कर रही मेडिकल टीम से सभी लोगों की स्वास्थ्य संबंधी जानकारी प्राप्त की। डीसी ने मेडिकल टीम को दुधिजोल में लगातार सात दिन तक कैंप करने और सभी लोगों की प्रतिदिन स्वास्थ्य की जांच करने तथा किसी प्रकार का संदेह होने पर वरीय पदाधिकारी को सूचित करने का निर्देश दिया।

गुलगुलिया परिवार के सभी बच्चों का टीकाकरण करने का भी निर्देश दिया। उपायुक्त ने कहा कि दुधिजोल में अब तक किसी में कोरोना वायरस का संक्रमण नहीं पाया गया है। इन तीनों बच्चो की मौत किसी अन्य कारण से हुई है। फिर भी ऐहतियात के तौर पर मरने वाले बच्चे के माता, पिता, भाई, बहन सहित कुल पांच लोगों का सैंपल लिया गया है। कहा कि एक बच्चा बीमार है। उसे इलाज के लिए बरहड़वा में रखा गया है। डीसी ने कहा कि दुधिजोल में बसे सभी गुलगुलिया परिवार को 15 दिनों का राशन दिया जाएगा। साथ पेयजल के लिए पानी टैंकर की व्यवस्था भी कर दी गई है ताकि खाने पीने का कोई कष्ट नहीं हो। उन्होंने कहा कि मेडिकल टीम के साथ साथ  अनुमंडल पदाधिकारी  और प्रखंड विकास पदाधिकारी निगरानी करेंगे।

प्रखंड विकास पदाधिकारी चंदन कुमार सिंह, अनुमंडल पुलिस पदाधिकारी बरहड़वा केवी रमन,  पुलिस इंस्पेक्टर बरहड़वा सुनील कुमार, प्रखंड चिकित्सा पदाधिकारी बरहड़वा सरिता टुडू, डॉ. नवल किशोर सहित मेडिकल टीम के सदस्य मौजूद थे।

Posted By: Jagran

डाउनलोड करें जागरण एप और न्यूज़ जगत की सभी खबरों के साथ पायें जॉब अलर्ट, जोक्स, शायरी, रेडियो और अन्य सर्विस