संजय कुमार, रांची

रांची लोकसभा चुनाव के मद्देनजर मतदाताओं का मुड जानने के लिए रविवार को दैनिक जागरण की टीम बरियातू रोड स्थित आरोग्य भवन पहुंची थी। वहां पर रांची के अलग-अलग प्रखंडों से लोग किसी बैठक में भाग लेने आए हुए थे। उनके बीच चुनावी चर्चा होने लगी। चुनाव का समय और चर्चा हो तो लोग बोलने में पीछे कहां रहने वाले हैं। उपस्थित अधिकतर लोगों ने राष्ट्रवाद एवं देशहित में मतदान करने की बात कही। कहा, जातिवाद तो अब पीछे छुट चूका है। केंद्र सरकार की योजनाओं का लाभ लोगों को मिल रहा है। स्कूल में बच्चों को सीधे छात्रवृत्ति की राशि मिल रही है तो कभी जीवन में सोचा नहीं था कि गैस के चूल्हा पर खाना मेरे घर में भी बनेगा, आज धुआं से छुटकारा मिल चुका है। चर्चा को शुरू करते हुए रांची के प्रकाश महतो कहते हैं, इस बार मैं तो देशहित में मतदान करूंगा और दूसरे को भी देने के लिए कहूंगा। देश है तभी समाज एवं परिवार है। जहां तक विकास की बात है तो यह तो दिख रहा है। सबसे ज्यादा गरीबों को फायदा आयुष्मान योजना से हो रहा है। इस योजना के लागू होने से पहले एक गंभीर बीमारी में गरीबों का सबकुछ बिक जाता था। भैस, बकरी से लेकर जमीन तक बिक जाता था। आज स्थिति बदल गई है। इस योजना से लोगों को काफी खुशी मिली है। इनके बात का समर्थन करते हुए सिल्ली के करम सिंह महतो कहते हैं, बात तो सही है। पिछले पांच साल में विकास का काफी काम हुआ है। आज राज्य से नक्सलवाद समाप्ति की ओर है। सड़कें अच्छी हैं। मेरे गांव में भी अधिकतर घरों में शौचालय का निर्माण हो गया है। इससे सबसे ज्यादा घर की महिलाएं खुश हैं। उनकी खुशी का बखान आप नहीं कर सकते हैं। इसलिए इस बार तो वोट विकास के लिए करेंगे और लोगों को भी कहेंगे कि विकास के लिए वोट करना है। चर्चा में भाग लेते हुए रांची के दिलीप महतो कहते हैं, बात तो ये लोग सही कह रहे हैं। इस बार जातपात को ध्यान में रखते हुए वोट नहीं करूंगा। केवल वोट के समय लोगों को अपने जात की याद आती है। उसके बाद सभी भूल जाते हैं। चुनाव में जीतने के बाद सब अपना देखने लगते हैं। तो सिल्ली के करम महतो कहते हैं, सरकारी योजनाओं की जानकारी अभी भी गांव में लोगों को नहीं है। इसके लिए सरकार को और प्रचार करने की जरूरत है। स्वच्छ भारत, प्रधानमंत्री आयुष्मान योजना सहित कई योजनाएं चल रही है परंतु मेरे गांव के अधिकतर लोगों को पता नहीं है। वैसे वोट तो वैसे प्रतिनिधि को दूंगा जो दुख सुख में साथ दे। चुनाव जीतने के बाद भी गांव में आए। राज्य में काम तो हुआ है

चुनावी चर्चा में भाग लेते हुए ठाकुरगांव के हिरालाल महतो कहते हैं, भाई इस सरकार में काम तो हुआ है। गांव के लोग खुश हैं। किसानों के खाते में रुपये आ रहे हैं। इससे हम जैसे किसानों को फायदा है। वैसे सरकार को इस पर और ध्यान देना चाहिए। चर्चा में ओरमांझी के मनोज महतो एवं अनगड़ा के सुकरा महतो भाग लेते हुए कहते हैं कि चुनाव में जातपात की बात अब नहीं होगी। जो दल देशहित एवं राष्ट्र को आगे ले जाने के लिए काम करेगा उसे ही हमलोग वोट देंगे।

Posted By: Jagran

डाउनलोड करें जागरण एप और न्यूज़ जगत की सभी खबरों के साथ पायें जॉब अलर्ट, जोक्स, शायरी, रेडियो और अन्य सर्विस