जागरण संवाददाता रांची : स्वर्णरेखा नदी नामकुम में रविवार की दोपहर डूबने से दो बच्चों की मौत हो गई। घटना दोपहर 12 बजे की बताई जा रही है। परिजनों के द्वारा रिम्स में बच्चों को लाए जाने के बाद चिकित्सकों ने मृत घोषित कर दिया। मृतकों में मो. सैफ और मो. फरहान शामिल हैं। दोनों की उम्र करीब नौ वर्ष थी। जानकारी के अनुसार नामकुम पोस्टऑफिस के समीप रहने वाले मो. सैफ और मो. फरहान घर के नजदीक स्थित स्वर्णरेखा नदी में कूड़ा फेकने गए थे। परिजनों के मुताबिक पैर फिसलने की वजह से दोनों डूब गये। जब बच्चे काफी देर तक घर नहीं पहुंचे तब सैफ की मां उनकी तलाश में निकली। मां जब नदी पर पहुंची, तो देखा कि चप्पल पानी में तैर रहा था। पानी में तैरता देख मां ने शोर मचाना शुरू कर दिया। आसपास के लोग जुटे और पानी में कूद गए। पानी में तलाशने पर दोनों का शव मिला। इसके बाद मां वहीं दहाड़े मारकर रोने लगी थी। आनन-फानन में उसे रिम्स ले जाया गया। जहां डॉक्टरों ने दोनों को मृत घोषित कर दिया। परिजनों के अनुसार मृतक बच्चों में एक मो. फरहान अपनी मां के साथ मामा के घर आया हुआ था। मूल रूप से वह हरियाणा का रहने वाला था।

--

रिम्स में दहाड़े मारकर रो रहे थे परिजन :

घटना के बाद रिम्स में दोनों बच्चों के परिजन पहुंचे थे। बच्चे की मां और पिता दहाड़े मारकर रो रहे थे। उनके साथ मौजूद लोग उन्हें ढांढ़स बंधा रहे थे। घटना की सूचना मिलने पर नामकुम थाना की पुलिस रिम्स पहुंची थी। हालांकि परिजनों की स्थिति देख बयान नहीं लिया गया।

--

स्वर्णरेखा नदी में पहले भी डूबकर हुई थी एक बच्चे की मौत

आठ दिसंबर 2017 को पिकनिक मनाने के लिए बड़ा घाघरा स्थित स्वर्णरेखा नदी पर स्पॉट देखने गए रिशु कुमार (12 वर्ष)की डूबने से मौत हो गई थी। वह चुटिया सरस्वती विद्या मंदिर स्कूल के सातवीं का छात्र था। वह तीन दोस्तों के साथ नदी पर गया था। उसी दौरान उसकी चप्पल नदी में गिर गया, जिसे निकालने की कोशिश के दौरान वह नदी में बह गया था।

Posted By: Jagran

अब खबरों के साथ पायें जॉब अलर्ट, जोक्स, शायरी, रेडियो और अन्य सर्विस, डाउनलोड करें जागरण एप