रांची, जेएनएन। हम हर रोज सड़क पर हो रहे हादसों के बारे में सुनते हैं, बात करते हैं और वीडियो भी देखते हैं। किसी की मौत पर अफसोस भी करते हैं और दूसरों को यातायात नियमों का पालन करने की सलाह भी देते हैं। लेकिन इन सबके बाद भी हम अपनी सुरक्षा को नजरअंदाज कर खुद नियमों का पालन नहीं करते हैं। हादसे किसी के साथ भी हो सकते हैं। हम सबको उनसे बचने के लिए अपनी ओर से तैयार रहना चाहिए। इसके लिए हमें सिर्फ यातायात नियमों का पालन करने की जरूरत है।

नियमों की अवहेलना का परिणाम हम कई बार देख चुके हैं। आए दिन रांची में हो रहे सड़क हादसे इसके गवाह हैं। इन हादसों को कम करने के लिए यह बेहद जरूरी है कि लोगों में यातायात नियमों को लेकर जागरूकता हो। लोगों को जागरूक करने के उद्देश्य से दैनिक जागरण द्वारा अलबर्ट एक्का चौक पर सुरक्षित चलें-सुरक्षित रहें अभियान चलाया गया। इस दौरान रांची के ट्रैफिक एसपी संजय रंजन सिंह और दैनिक जागरण झारखंड के वरीय महाप्रबंधक मनोज गुप्ता उपस्थित थे।

हेलमेट पहनने की दी सलाह

इस दौरान अलबर्ट एक्का चौक पर ट्रैफिक पुलिस और एनसीसी की महिला कैडेट की मदद उन लोगों को पकड़ा गया, जो ट्रैफिक नियमों का पालन नहीं करते दिखे। मसलन जिन्होंने हेलमेट नहीं पहना हो या ट्रिपलिंग में हों। ऐसे लोगों से किसी प्रकार का फाइन नहीं लिया गया और ना ही किसी का चालान कटा, बल्कि उन्हें फूलों की माला पहना कर उनका स्वागत किया गया। ट्रैफिक एसपी ने ऐसे लोगों से हेलमेट नहीं पहनने की वजह पूछी और उनसे विनम्रता पूर्वक यह आग्रह किया कि हेलमेट पहन कर आप स्वयं को सुरक्षित रखें। मौके पर दैनिक जागरण झारखंड के वरीय महाप्रबंधक मनोज गुप्ता भी लोगों से मुखातिब हुए और कहा कि आपकी छोटी सी गलती आपके लिए बड़ी समस्या खड़ी कर सकती है।

इसका परिणाम सिर्फ आप नहीं, बल्कि आपका पूरा परिवार भुगत सकता है। लोगों को यातायात के नियमों की जानकारी और उनके पालन के लिए आग्रह करते हुए यह अभियान करीब दो घंटे तक चला। बिना हेलमेट वालों की लगी क्लास - जिन्होंने हेलमेट नहीं पहना था उनकी क्लास खुद ट्रैफिक एसपी ने लगाई। कहा कि हेलमेट स्कूटी में रखने के लिए नहीं, बल्कि सिर में पहनने के लिए है। एनसीसी की कैडेट द्वारा ऐसे लोगों को फूलों की माला भी पहनाई गई। उन्हें जागरूक करने के लिए दैनिक जागरण का पंपलेट भी बांटा गया, जिससे वह आगे ऐसी गलती नहीं करें।

ट्रिपलिंग कर रहे लोगों ने कहा सॉरी

बाइक पर तीन लोगों को जाते देखकर उन्हें रोका गया। पास बुला कर समझाने पर उन्होने अपनी गलती मानी और सॉरी कहा। उन्होने इस बात का यकीन भी दिलाया कि वे दोबारा ऐसी गलती नहीं करेंगे। उन्हें भी फूलों की माला पहना कर उनकी गलती का एहसास दिलाया गया। यमराज ने दी जान बचाने की सलाह अभियान में दैनिक जागरण की ओर से सड़क पर यमराज को भी उतारा गया। यमराज की वेश-भूषा में सड़क पर एक व्यक्ति लोगों को उनकी जान की सलामती के बारे में बताता हुआ दिखा। यमराज ने लोगों को इस बात की याद दिलाई कि मौत किसी को नहीं पहचानती और वह कभी भी कहीं भी आ सकती है। यदि आप सड़क पर सतर्क नहीं रहे, तो वास्तविक यमराज से भी मुलाकात दूर नहीं है।

दैनिक जागरण चला रहा अभियान

ज्ञात हो कि दैनिक जागरण की ओर से सुरक्षित चलें, सुरक्षित रहें अभियान नौ मई से चलाया जा रहा है। इसके तहत शहर के विभिन्न स्कूलों में बच्चों को यातायात के नियमों के प्रति जागरूक करने के बाद अब सड़कों पर आम लोगों को जागरूक करने का काम किया जा रहा है। सड़क पर हो रहे हादसों से दहल रही राची के लोगों को सतर्कता का पाठ पढ़ाने के उद्देश्य से यह अभियान शुरू किया गया था। इसके तहत कई और भी जागरुकता अभियान चलाए जाएंगे।