संसू, नामकुम (रांची) : अमन साहू गिरोह के तीन गुर्गो को नामकुम के केतारी बगान रेलवे क्रासिंग के पास से पुलिस ने गिरफ्तार कर लिया है। वे यहां पर किसी व्यक्ति की हत्या की साजिश रच रहे थे। गिरफ्तार अपराधियों में जगत कुमार उर्फ लक्की उर्फ गोलू (25वर्ष), विनय सिंह उर्फ नेपाली (23) व करण रविदास उर्फ हनी गोलू (23वर्ष) शामिल हैं। इनके पास से 7.65 एमएम की दो देसी पिस्टल, 7.65 एमएम की पांच गोली, आठ एमएम के तीन जिंदा कारतूस एवं तीन मोबाइल बरामद किया गया। गिरफ्तार अपराधी जगत कुमार पिता सत्यप्रकाश लाल, कृष्णापुरी पावर हाउस रोड़ नं. एक चुटिया का रहने वाला है। वहीं, विनय सिंह पिता उपेंद्र सिंह, किशोरगंज रोड़ नंबर चार सुखदेव नगर और करण रविदास, पिता अजय रविदास चुटिया के पावर हाउस के पक्का कुआं के पास का रहने वाला है। सभी पर नामकुम थाने में मामला दर्ज कर कार्रवाई की जा रही है। यह जानकारी ग्रामीण एसपी नौशाद आलम ने नामकुम थाने में प्रेस कांफ्रेंस कर दी। ग्रामीण एसपी ने बताया कि वरीय पुलिस अधीक्षक सुरेंद्र झा को गुप्त सूचना मिली थी कि हत्याकांड को अंजाम देने के उद्देश्य से अमन साहू गिरोह के गुर्ग नामकुम थाना क्षेत्र में साजिश रच रहे हैं। इस पर तत्काल कार्रवाई करते हुए डीएसपी (मुख्यालय) प्रथम नीरज कुमार के नेतृत्व में थाना प्रभारी प्रवीण कुमार व एसआइ रंजीत कुमार के नेतृत्व में एक टीम का गठन किया गया। टीम ने त्वरित कार्रवाई करते हुए हथियार के साथ तीनों आरोपितों को पकड़ लिया।

------

हत्या कर दहशत फैलाना चाहता है गैंग

ग्रामीण एसपी ने कहा कि अमन साहू गिरोह का मुख्य उद्देश्य है कि शहर में कुछ लोगों की हत्या कर दहशत फैलाना। ताकि, आसानी से लेवी वसूली जा सके। पुलिस को यह बहुत बड़ी सफलता मिली है कि अमन साहू गिरोह के सदस्यों के दूसरी बार घटना को अंजाम देने से पूर्व पकड़ लिया गया।

Edited By: Jagran