जागरण संवाददाता, रांची। चारा घोटाले में दुमका कोषागार से अवैध निकासी से संबंधित मामले में बुधवार को बिहार के पूर्व मुख्यमंत्री व राजद सुप्रीमो लालू प्रसाद यादव, पूर्व सांसद डॉ. आरके राणा, लोक लेखा समिति के तत्कालीन अध्यक्ष जगदीश शर्मा सहित अन्य आरोपी कोर्ट में पेश हुए। सीबीआइ के विशेष न्यायाधीश शिवपाल सिंह की अदालत में लालू सहित अन्य आरोपियों की पेशी वीडियो कांफ्रेंसिंग के माध्यम से हुई। लालू यादव ने खुद कोर्ट के समक्ष अपना पक्ष रखा।

लालू ने न्यायाधीश से पूछा हुजूर कब तक जजमेंट दीजिएगा, जल्दी जजमेंट कर दिया जाए। इस बार थोड़ा बढि़या से लिखिएगा. हुजूर। अब तो होली जेल में ही बीतेगा। लालू ने यह भी कहा कि तत्कालीन एजी टीएन चतुर्वेदी को भी इस मामले में आरोपी बनाया जाए। कोर्ट ने पूछा, वो अभी जीवित हैं या नहीं। इसपर लालू ने कहा, मुझे फंसाने के इनाम में बीजेपी वालों ने उन्हें राज्यसभा भेजा है। सुनवाई खत्म होने के दौरान लालू ने होली की शुभकामनाएं दी और जज से कहा कि हुजूर होलिका के साथ आपके दुश्मनों का नाश हो जाए।

कानूनी बिंदु पर बहस के आरोपियों की ओर से उनके अधिवक्ताओं ने पक्ष रखा। कहा कि सीबीआइ ने तथ्य को छुपाया है। न्यायालय में गलत तथ्य प्रस्तुत किया है। चारा घोटाले के एक केस में आनंद कुमार गुटगुटिया को बचाने के लिए उसे अस्तित्व में नहीं होने का हवाला दिया है, जबकि दूसरे केस में गुटगुटिया सीबीआइ के चार्जशीट में गवाह हैं। अदालत ने मामले की अगली सुनवाई की तिथि पांच मार्च निर्धारित की है। इस दिन बचाव की ओर से कानूनी बिंदुओं पर हाई कोर्ट व सुप्रीम कोर्ट द्वारा दिए गए निर्णय दाखिल किए जाएंगे।

कैदियों के साथ फाग गाएंगे लालू

होटवार स्थित बिरसा मुंडा केंद्रीय कारा (जेल) प्रशासन ने कैदियों के लिए होली में विशेष व्यवस्था की है। एक क्विंटल रंग व अबीर मंगवाया गया है। चारा घोटाला मामला में दोषी करार दिए गए लालू प्रसाद यादव जेल में ही फाग गाएंगे। अपर डिवीजन सेल के कैदियों के अलावा वह सामान्य कैदियों के साथ होली खेलेंगे। जेल सूत्रों के अनुसार, लालू को अपर डिवीजन सेल से निकाल कर सामान्य कैदियों के साथ होली खेलने की व्यवस्था की जाएगी। अन्य वीआइपी कैदी भी आम कैदियों के साथ होली खेलेंगे। जेल अधीक्षक अशोक चौधरी ने बताया कि होली को लेकर कैदियों में उत्साह है। प्रत्येक वर्ष की तरह इस वर्ष भी कैदियों के लिए रंग की व्यवस्था की जा रही है, ताकि कैदी भी सामान्य तरीके से होली मना सकें।

तबला और मांदर की भी है व्यवस्था:

जेल में तबला और मांदर की भी व्यवस्था है। कैदी फाग गीत के साथ मांदर और तबला की थाप पर थिरकेंगे भी। एक दूसरे पर रंग-अबीर गुलाल लगाकर खुशियां भी मनाएंगे। होली के दिन मिठाई भी मंगवाई जाएगी, जिसे कैदियों में बांटा जाएगा। बुधवार को लालू समेत कई वीआइपी कैदियों के लिए मिठाइयां भेजी गईं।

लालू के छूटने पर ही मनाएंगे होली:

राजद नेता अनिल सिंह आजाद ने कहा है कि लालू के जेल से छूटने के बाद ही होली मनाएंगे। कार्यकर्ताओं में होली को लेकर कोई उत्साह नहीं है। चूंकि उनके नेता जेल में बंद हैं। लालू के जेल से छूटने का इंतजार है। जिस दिन वह जेल से छूटेंगे, उस दिन होली और दिवाली साथ मनेगी।

झारखंड की अन्य खबरें पढ़ने के लिए यहां क्लिक करें

आज़ादी की 72वीं वर्षगाँठ पर भेजें देश भक्ति से जुड़ी कविता, शायरी, कहानी और जीतें फोन, डाउनलोड करें जागरण एप

Posted By: Sachin Mishra