रांची, जागरण संवाददाता। स्वतंत्रता की 75वीं वर्षगांठ पर 75 करोड़ सूर्य नमस्कार करने का लक्ष्य राष्ट्रीय स्वयंसेवक संघ (आरएसएस), पतंजलि योगपीठ, भारत सरकार के आयुष मंत्रालय सहित कई संगठनों ने रखा है। आरएसएस ने देश के सभी प्रांतों के साथ-साथ विदेश में भी रहने वाले स्वयंसेवकों के साथ मिलकर इस अभियान को पूरा करने का कार्यक्रम बनाया है। इस अभियान में आरएसएस के समविचारी संगठन भी लगे हैं। इस 75 करोड़ सूर्य नमस्कार अभियान के लक्ष्य को प्राप्त करने की शुरुआत रविवार को झारखंड में हो गई। इस कार्यक्रम को लेकर झारखंड में काफी उत्साह है। पहले दिन राज्य के सभी जिलों में 15000 स्थानों पर सामूहिक कार्यक्रम हुए। वहीं 42000 हजार लोगों ने अपने-अपने घरों में सूर्य नमस्कार किए। इस कार्यक्रम में खेल संस्थान व योग केंद्र के लोगों ने भी भाग लिया। सूर्य नमस्कार समिति की ओर से दिए गए आंकड़ों के अनुसार रविवार को सभी लोगों ने मिलकर एक करोड़ पांच लाख 76 हजार सूर्य नमस्कार किए।

झारखंड में 3.50 करोड़ का है लक्ष्य

आरएसएस के झारखंड प्रांत के सह शारीरिक प्रमुख कुणाल कुमार ने कहा कि कोरोना संक्रमण की गाइडलाइन को देखते हुए एक स्थान पर अधिक से अधिक 50 से 60 लोगों को ही उपस्थित होने की अनुमति आयोजन समिति की ओर से दी गई थी। वहीं क्रीड़ा भारती के प्रदेश मंत्री राजीव कुमार ने कहा कि झारखंड ने 3.50 करोड़ सूर्य नमस्कार का लक्ष्य रखा है। पहले दिन के उत्साह के देखते हुए लगता है कि लक्ष्य से हमलोग काफी आगे निकल जाएंगे। इस अभियान को सफल बनाने में राष्ट्रीय स्वयंसेवक संघ का शारीरिक शिक्षण विभाग के साथ-साथ क्रीड़ा भारती, विद्या भारती, वनवासी कल्याण केंद्र, एकल अभियान, अखिल भारतीय विद्यार्थी परिषद, विश्व हिंदू परिषद, हिंदू जागरण मंच सहित कई सामाजिक संगठनों के लोग लगे हुए हैं। समाज के लोगों से भी इस कार्यक्रम में शामिल होने की अपील की गई है।

सार्वजनिक कार्यक्रम स्थगित

कुणाल कुमार ने कहा कि कोरोना संक्रमण को देखते हुए सभी जिलों में आयोजित होने वाले सार्वजनिक कार्यक्रम को स्थगित कर दिया गया है। 23 जनवरी तक संघ के स्वयंसेवक शाखा स्थल पर ही सूर्य नमस्कार करेंगे। इसमें शाखा लगे रहने के दौरान उनके द्वारा किए गए सूर्य नमस्कार को शामिल नहीं किया जाएगा। ऐसी व्यवस्था बनाई गई है कि प्रत्येक दिन शाम तक सभी जिलों की संख्या एक जगह आ जाएगी। इसके लिए सभी जिलों के साथ साथ प्रांत स्तर पर समिति गठित की गई है।

विद्या भारती के स्कूलों में पढऩे वाले बच्चे घरों में करेंगे योग

कार्यक्रम में शामिल विद्या भारती ने अपने स्कूली बच्चों से घरों में सूर्य नमस्कार करने को कहा है। 23 जनवरी तक प्रत्येक दिन 15 मिनट सभी बच्चे अपने अपने घरों में सूर्य नमस्कार करेंगे। वहीं शिक्षक स्कूल में योग करेंगे। झारखंड में लगभग 25000 बच्चे आनलाइन इस अभियान में आनलाइन शामिल होंगे। वहीं बाल संस्कार केंद्रों पर पढऩे वाले बच्चे भी सूर्य नमस्कार करेंगे।

झारखंड में 23 जनवरी तक चलने वाले इस सूर्य नमस्कार कार्यक्रम के तहत पहले दिन प्राप्त सूचना के अनुसार लगभग 15,000 स्थानों पर सामूहिक कार्यक्रम हुए। कोरोना संक्रमण की गाइडलाइन को देखते हुए एक स्थान पर अधिक से अधिक 50 से 60 लोगों को ही उपस्थित होने की अनुमति 75 करोड़ सूर्य नमस्कार आयोजन समिति की ओर से दी गई थी। क्रीड़ा भारती के प्रदेश मंत्री राजीव कुमार ने कहा कि झारखंड ने 3:50 करोड़ सूर्य नमस्कार करने का लक्ष्य रखा है। वही झारखंड और बिहार को मिलाकर 7:50 करोड़ सूर्य नमस्कार करने का लक्ष्य रखा गया है। इस कार्यक्रम को लेकर लोगों में काफी उत्साह है। इस अभियान को सफल बनाने में राष्ट्रीय स्वयंसेवक संघ का शारीरिक शिक्षण विभाग के साथ-साथ क्रीड़ा भारती, विद्या भारती, वनवासी कल्याण केंद्र, अखिल भारतीय विद्यार्थी परिषद, विश्व हिंदू परिषद , हिंदू जागरण मंच सहित कई सामाजिक संगठनों के लोग लगे हुए हैं । समाज के लोगों से भी इस कार्यक्रम में शामिल होने की अपील की गई है। उन्होंने कहा कि सूर्य नमस्कार एक ऐसा योग है जो लोगों को स्वस्थ रखता है। यदि प्रत्येक दिन आप 5 से 10 सूर्य नमस्कार करते हैं तो आपके स्वास्थ्य के लिए काफी लाभदायक रहेगा।

सार्वजनिक कार्यक्रम स्थगित

उन्होंने कहा कि कोरोना संक्रमण को देखते हुए सभी जिलों में आयोजित होने वाले सार्वजनिक कार्यक्रम को स्थगित कर दिया गया है। 23 जनवरी तक संघ के स्वयंसेवक शाखा स्थल पर ही सूर्य नमस्कार करेंगे। इसमें शाखा लगे रहने के दौरान उनके द्वारा किए गए सूर्य नमस्कार को शामिल नहीं किया जाएगा। ऐसी व्यवस्था बनाई गई है कि प्रत्येक दिन शाम तक सभी जिलों की संख्या एक जगह आ जाएगी। इसके लिए सभी जिलों के साथ साथ प्रांत स्तर पर समिति गठित की गई है।

विद्या भारती के स्कूलों में पढने वाले बच्चे घरों में करेंगे योग

कार्यक्रम में शामिल विद्या भारती ने अपने स्कूली बच्चों से घरों में सूर्य नमस्कार करने को कहा है। 23जनवरी तक प्रत्येक दिन 15 मिनट सभी बच्चे अपने अपने घरों में सूर्य नमस्कार करेंगे। उसकी संख्या सभी शिक्षकों के पास जमा होगी। उस संख्या को राज्य स्तर पर जमा किया जाएगा। झारखंड में लगभग 25000 बच्चे इस अभियान में आनलाइन शामिल होंगे।

Edited By: Madhukar Kumar