रांची : स्वच्छ सर्वेक्षण-2018 में रांची ने 21 वां स्थान प्राप्त कर अपनी स्थिति पूर्व की तुलना में मजबूत की है। इससे पूर्व 2017 में रांची की रैंकिंग 117 थी। पिछले वर्ष की तुलना में इस बार नगर निगम ने पार्को में पिट तैयार कर बायो कंपोस्टिंग, अपार्टमेंट व बैंक्वेट हॉल में बायो कंपोस्टिंग मशीन लगाने, निगम क्षेत्र में कम्युनिटी टॉयलेट व पब्लिक टॉयलेट का निर्माण, सुलभ शौचालयों में दिव्यांगों के लिए रैंप का निर्माण कर टॉयलेट की व्यवस्था करना, चाइल्ड फ्रेंडसी टॉयलेट का निर्माण, निगम क्षेत्र में स्थित कमर्शियल क्षेत्रों में टॉयलेट की व्यवस्था, प्रमुख मार्गो पर मॉड्यूलर टॉयलेट की व्यवस्था, निगम क्षेत्र को खुले में शौचमुक्त करना, गीला व सूखा कचरा को अलग-अलग संग्रहित करने के लिए ट्रैक्टर, टाटाएस व टाटा जिप वाहनों में पार्टिशन कराने समेत अन्य कार्य निष्पादित किए। सिटीजन फीडबैक में भी शहरवासियों ने बढ़-चढ़कर हिस्सा लिया और नगर निगम द्वारा उपलब्ध कराए गई सुविधाओं के प्रति सकारात्मक जवाब दिया।

बेस्ट स्टेट कैपिटल का अवार्ड

शनिवार को इंदौर में आयोजित कार्यक्रम में मेयर आशा लकड़ा, नगर आयुक्त, डॉ.शांतनु कुमार अग्रहरि, सहायक कार्यपालक पदाधिकारी रामकृष्ण कुमार व नगर प्रबंधक फरहत अनीसी ने केंद्रीय नगर विकास मंत्री से अवार्ड भी हासिल किया। स्वच्छ सर्वेक्षण के तहत सिटीजन फीडबैक में रांची को पूरे देश में बेस्ट स्टेट कैपिटल का दर्जा मिला था।

100 में झारखंड के नौ शहर

रैंकिंग - शहर - सर्विस लेवल प्रोग्रेस- डायरेक्ट ऑब्जर्वेशन - सिटीजन फीडबैक- कुल अंक

19 चास 749 1156 1268 3173

20 मानगो 696 1162 1303 3162

21 रांची 752 1169 1225 3146

30 जमशेदपुर 593 1189 1265 3047

53 धनबाद 513 1112 1223 2848

56 देवघर 406 1152 1276 2834

58 गिरिडीह 439 1057 1317 2813

64 आदित्यपुर 446 1056 1270 2772

96 हजारीबाग 295 1051 1252 2597 हमारे लिए यह खुशी की बात है कि रांची को इस बार स्वच्छ शहरों की रैंकिंग में 21 वां स्थान प्राप्त हुआ है। पूर्वानुमान के तहत टॉप-20 में रैकिंग का आकलन किया जा रहा था। बेहतर परफॉर्मेस के लिए रांची की जनता, नगर निगम के सभी पदाधिकारी व पार्षद को भी धन्यवाद दूंगी। उन्होंने जो मेहनत की, उसी का परिणाम आज सामने आया है। सिटीजन फीडबैक के तहत बेस्ट स्टेट कैपिटल में रांची पूरे देश में अव्वल है। आगामी स्वच्छ सर्वेक्षण में नंबर-1 रैंक हासिल करने के लिए इंदौर समेत अन्य शहरों के बेहतर मॉडल को अपनाकर शेष कमियों को दूर किया जाएगा।

- आशा लकड़ा, मेयर, रांची। नगर निगम के अथक प्रयास से रांची शहर को स्वच्छता में पूरे देश में बेस्ट स्टेट कैपिटल इन सिटीजन फीडबैक में प्रथम स्थान व स्वच्छता को लेकर पूरे देश में 21वें स्थान के लिए पूरे शहरवासियों को आभार व बधाई। रांची के तमाम नगरवासियों व नगर निगम कर्मियों के अथक प्रयासों के कारण ही देशभर में रांची नगर निगम सर्वोच्च स्थान कायम कर पाया। यह प्रयास निरंतर जारी रखते हुए, स्वच्छता में अच्छे प्रदर्शन की कामना करते हुए सभी नगरवासियों व कर्मियों को धन्यवाद।

-डॉ.शांतनु कुमार अग्रहरि, नगर आयुक्त, रांची नगर निगम। अपना शहर स्वच्छ सर्वेक्षण में पूरे देश में 21वें स्थान पर आया है। यह पूरे शहरवासियों के गौरव की बात है। लगातार सभी जनप्रतिनिधि, अधिकारी व रांची की जनता के अथक प्रयास व सहयोग से ही यह संभव हो पाया है। इस कार्य में सरकार का भरपूर सहयोग व दिशानिर्देश भी मिला है। मैं नगर विकास मंत्री को दिल से बधाई देता हूं। रांची की जनता को सलाम करते हुए यह आह्वान करता हूं हम प्रत्येक वर्ष स्वच्छता में अच्छा प्रदर्शन कर रहे हैं और नंबर-1 के लिए संकल्प लें। अपनी सहभागिता के लिए सतत प्रयास करें।

- संजीव विजयवर्गीय, डिप्टी मेयर, रांची।

-----

21 वीं रैकिंग हासिल करने के लिए सभी सुपरवाइजर व कर्मियों को बधाई। हम डॉक्यूमेंटेशन में आगे रहे। बेहतर रैंकिंग का क्रेडिट सुपरवाइजर समेत सभी फील्ड कर्मियों को जाता है। स्वच्छता संबंधी कार्यो में वरीय अधिकारियों का बेहतर मार्गदर्शन मिला। नगर आयुक्त व पूर्व अपर नगर आयुक्त दिव्यांशु झा ने बेहतर मार्गदर्शन दिया। हालांकि कूड़े के फाइनल डिस्पोजल में हम पीछे रहे। इसके अलावा सीवरेज के फाइनल डिस्पोजल व गीला और सूखा कचरा को अलग-अलग करने की प्रक्रिया में भी हम कमजोर रहे। इन बिंदुओं पर बेहतर कार्य योजना तैयार करने के बाद हम नंबर-1 के पायदान पर पहुंच पाएंगे।

- डॉ.किरण कुमारी, सहायक लोक स्वास्थ्य पदाधिकारी, रांची नगर निगम। स्वच्छ सर्वेक्षण के तय अंक

स्वच्छता के मानदंड - अंक

कलेक्शन एंड ट्रांसपोर्टेशन - 420

प्रोसेसिंग एंड डिस्पोजल - 350

सेनिटेशन - 420

आइइसी एंड बिहेवियर चेंज - 70

केपासिटी बिल्डिंग - 70

इनोवेटिव एंड बेस्ट प्रैक्टिसेस - 70

डायरेक्ट ऑब्जर्वेशन - 1,200

सिटीजन फीडबैक -1 - 1,000

सिटीजन फीडबैक - 2 400

कुल - 4,000

Posted By: Jagran

डाउनलोड करें जागरण एप और न्यूज़ जगत की सभी खबरों के साथ पायें जॉब अलर्ट, जोक्स, शायरी, रेडियो और अन्य सर्विस