राज्य ब्यूरो, रांची। चतरा के टंडवा स्थित मगध व आम्रपाली कोयला परियोजना से टेरर फंडिंग मामले में एनआइए की टीम ने ट्रांसपोर्टर सुधांशु रंजन उर्फ छोटू सिंह को रांची से गिरफ्तार कर लिया है। वह चतरा के सिमरिया का रहने वाला है। उस पर तृतीय प्रस्तुति कमेटी (टीपीसी) को फंड देने कि पुष्टि हुई है। टीपीसी को लेवी देने के लिए ही उसने ऊंची दर पर मगध और आम्रपाली प्रोजेक्ट से कोयला ढुलाई का ठेका लिया था।

एनआइए की पूछताछ में यह खुलासा हुआ है कि छोटू सिंह मगध व आम्रपाली प्रोजेक्ट में कोयला ढुलाई का ठेका लिया है। उसने टीपीसी नेता आक्रमण उर्फ नेताजी की अनुशंसा पर ही यह ठेका लिया था। ऊंची दर पर ली गई राशि का अधिकतर हिस्सा टीपीसी को देता था।छोटू सिंह को मंगलवार को एनआइए के विशेष न्यायाधीश की अदालत में पेश किया जाएगा, जहां से उन्हें न्यायिक हिरासत में भेज दिया जाएगा।

टेरर फंडिंग के इस मामले में अब तक एनआइए ने सात लोगों को गिरफ्तार कर लिया है। जिसका अनुसंधान अभी जारी है। पूर्व में एनआइए ने टेरर फंडिंग मामले के मास्टरमाइंड सुभान खान को गिरफ्तार कर जेल भेजा था। उस पर सीसीएल, पुलिस, उग्रवादी और शांति समिति के बीच समन्वय बैठाने की आड़ में मोटी रकम लेवी के रूप में उठाने का आरोप है।

 

Posted By: Sachin Mishra

डाउनलोड करें जागरण एप और न्यूज़ जगत की सभी खबरों के साथ पायें जॉब अलर्ट, जोक्स, शायरी, रेडियो और अन्य सर्विस