रांची, जासं। उपायुक्त राय महिमापत रे ने सदर परियोजना की पांच आंगनबाड़ी सेविकाओं को चयनमुक्त कर दिया है। उन्होंने सभी आंगनबाड़ी सेविकाओं/सहायिकाओं को 24 घंटे के अंदर काम पर वापस लौटने का निर्देश भी जारी किया है। उन्होंने पत्र जारी कर चेतावनी दी है कि 24 घंटे के अंदर काम पर वापस नहीं लौटने वाली आंगनबाड़ी सेविकाओं/सहायिकाओं का चयन रद कर दिया जाएगा।

उपायुक्त ने रांची जिला के सभी बाल विकास परियोजना पदाधिकारियों को निर्देश दिया है कि संबंधित परियोजना से जुड़ी सेविकाओं/सहायिकाओं को पत्र की प्रति उपलब्ध कराएं। उन्हें 24 घंटे के अंदर काम पर वापस लौटने का निर्देश दें, अन्यथा उनका चयन रद कर दिया जाएगा। उनके स्थान पर नए सिरे से सेविका/सहायिकाओं का चयन किया जाएगा।

हड़ताल से वापस आने का दिया गया था नोटिस

उपायुक्त ने बताया कि बिना कारण बताए हड़ताल जारी रखने के कारण आंगनबाड़ी केंद्रों के कार्य प्रभावित हो रहे थे। जिन सेविकाओं पर कार्रवाई की गई है, वे काम पर लौटने की इच्छुक सेविकाओं/सहायिकाओं को रोक रही थीं। इन्हें काम पर वापस लौटने का नोटिस भी दिया गया था। चयन मुक्त की गई सेविकाओं ने अन्य सेविकाओं/सहायिकाओं को नोटिस पर निर्णय लेने से भी रोका था। तीन अक्टूबर को बाल विकास परियोजना पदाधिकारी रांची ने उनसे वार्ता भी की थी। फिर भी कोई फलाफल नहीं निकला।

इन्हें किया गया चयनमुक्त

सुजाता तिर्की पहाड़ी टोला सरना स्थल, सुमन कुमारी जयप्रकाश नगर पहाड़ी टोला, करमी लकड़ा हातमा भीठा ऊपर टोली मिनी, रेशमा केरकेïट्टा कडरू बगीचा टोली, सीता तिग्गा आर्यपुरी अलकापुरी।

Posted By: Sujeet Kumar Suman

अब खबरों के साथ पायें जॉब अलर्ट, जोक्स, शायरी, रेडियो और अन्य सर्विस, डाउनलोड करें जागरण एप