जागरण संवाददाता, रांची : आपकी समस्याओं के समाधान के लिए हर समय खड़ा हूं। जहा भी आपको मेरी जरूरत लगे, आप मुझे याद करें, हर समय उपलब्ध रहूंगा। विधानसभा से लेकर सरकार के स्तर तक आपकी बात को पहुंचाने का काम करूंगा। उक्त बातें कांके विधायक समरी लाल ने गुरुवार को कोकर इंडस्ट्रियल एरिया के एसोसिएशन भवन में आयोजित समस्या एवं समाधान परिचर्चा के दौरान कही। वहीं, मौके पर एसोसिएशन के अध्यक्ष बापी गागुली ने कहा कि हम सभी रियाडा के खिलाफ लड़ने के लिए तैयार हैं। सभी को एकजुट करने की जरूरत है। अगर अब भी एकजुट नहीं हुए तो रियाडा का ढुलमुल रवैया बरकरार रहेगा।

परिचर्चा के दौरान उद्यमियों ने कहा कि जहां कई जगहों में औद्योगिक क्षेत्र को मॉडल के रूप में विकसित किया गया है। यहां स्ट्रीट लाइट, पानी जैसी मूलभूत सुविधाएं भी मुहैया नहीं है। साथ ही जगह-जगह गंदगी का अंबार लगा है। नालियां जाम हैं, लेकिन रियाडा का इस ओर कोई ध्यान नहीं है। वहीं, वक्ताओं ने कहा कि एक समय यह मैन्यूफैक्चरिग हब हुआ करता था, लेकिन आज यह सर्विस हब बन गया है। एक वक्ता ने कहा कि यह समस्याएं इसलिए है कि रेगुलेटर फेल हो चुका है। इसके लिए हम खुद भी जिम्मेदार हैं। जिन समस्याओं को खुद पैदा किया है, उसका निराकरण भी हमें खुद करना होगा। एक अन्य वक्ता ने कहा कि अपने क्षेत्र की चिंता आपको खुद करनी होगी। समस्याओं की सूची बनाएं। उनकी प्राथमिकताएं तय करें। फिर हर माह या सप्ताह में नियमित बैठक करें। इस पर चर्चा करें।

अच्छी क्वालिटी का सीसीटीवी कैमरा लगाएं

इस दौरान उद्यमियों ने कहा कि इंडस्ट्रीयल एरिया असमाजिक तत्वों का अड्डा बन गया है। इससे आए दिन छिनतई, लूटपाट का डर बना रहता है। इस पर सदर थाना प्रभारी वेंकटेश कुमार ने कहा कि सभी उद्यमी अपने घरों व दुकानों के सामने अच्छी रौशनी वाले लाइट लगाएं। अंधेरा नहीं होगा तो असमाजिक तत्व भी नहीं होंगे। उन्होंने कहा कि दुकानों के सामने अच्छी क्वालिटी का सीसीटीवी कैमरा लगाएं। नई टेक्नोलॉजी का प्रयोग करेंगे, तो कई बार उपयोगी साबित होगी। वहीं, पूर्व अध्यक्ष हरीश पाडेय ने कहा कि जियाडा और उद्यमियों का संबंध नहीं

बन पाया, इसका मुख्य कारण ब्यूरोक्रेसी है। अधिकारियों का उद्यमियों से दूर-दूर तक वास्ता नहीं है। मौके पर सचिव बीरेंद्र प्रसाद, लाल बाबू पटेल, प्रदीप सिन्हा, मुकुल तनेजा, डीएन सिंह सहित कई उद्यमी उपस्थित थे।

Posted By: Jagran

डाउनलोड करें जागरण एप और न्यूज़ जगत की सभी खबरों के साथ पायें जॉब अलर्ट, जोक्स, शायरी, रेडियो और अन्य सर्विस