रांची, राज्‍य ब्‍यूरो। झारखंड विधानसभा में नमाज कक्ष के विवाद का हल निकालने की दिशा में प्रयास आरंभ हो गया है। विधानसभा अध्यक्ष रबीन्द्र नाथ महतो के निर्देश पर गठित विशेष कमेटी की पहली बैठक गुरुवार को हुई। इसमें निर्णय किया गया कि पड़ोसी राज्यों के विधानसभा से यह रिपोर्ट मंगाई जाएगी कि वहां नमाज पढ़ने या अन्य धर्मों के लिए कक्ष आदि की क्या व्यवस्था है। विशेष कमेटी के सभापति प्रो. स्टीफन मरांडी ने बताया कि रिपोर्ट आने के बाद अध्ययन किया जाएगा कि पड़ोसी राज्यों में क्या प्रविधान हैं।

वहां ऐसी कोई व्यवस्था है, अथवा नहीं है। 15 दिनों के भीतर यह रिपोर्ट तलब की गई है। रिपोर्ट आने के बाद विशेष कमेटी की अगली बैठक होगी। गौरतलब है कि विधानसभा के मानसून सत्र के दौरान नमाज कक्ष को लेकर विपक्षी दल भाजपा के विधायकों ने आपत्ति जताई थी। सत्र के दौरान इसे लेकर जमकर हंगामा हुआ। गांडेय के विधायक डा. सरफराज अहमद ने इस मसले के समाधान के लिए यह सुझाव दिया कि विधानसभा की विशेष कमेटी गठित की जाए।

कमेटी में सभी दलों के विधायकों को शामिल किया जाए। विधानसभा रबीन्द्र नाथ महतो ने इस सुझाव पर सहमति जताते हुए कमेटी गठित करने की घोषणा की। प्रो. स्टीफन मरांडी विशेष कमेटी के सभापति बनाए गए हैं। कमेटी के सदस्यों में भाजपा के नीलकंठ सिंह मुंडा, आजसू पार्टी के लंबोदर महतो, कांग्रेस की दीपिका पांडेय सिंह, भाकपा माले के विनोद कुमार सिंह, प्रदीप यादव शामिल हैं।

Edited By: Sujeet Kumar Suman