जागरण संवाददाता, रांची : रोटरी क्लब रांची मिडटाउन ने सोमवार को रांची विश्वविद्यालय के भौतिकी विभाग की छात्राओं के लिए सेनिटरी नैपकिन वेंडिंग मशीन भेंट की। राची विश्वविद्यालय छात्र संघ उपाध्यक्ष दिव्या पाठक के अनुरोध पर रोटरी क्लब के सदस्यों ने विभाग के सभागार में उपस्थित शिक्षकों व छात्राओं को इसके इस्तेमाल की जानकारी दी। सेनेटरी नैपकिन वैंडिंग मशीन मिलने के बाद भौतिकी विभाग की छात्राओं ने रोटरी मिडटाउन के सदस्यों का आभार व्यक्त किया। कुछ दिन पहले ही रोटरी राची मिडटाउन ने शहर के कई महिला शिक्षण संस्थानों में इस मशीन की सुविधा प्रदान कराई है। स्कूलों में एक लाख निश्शक्त बच्चे, विशेष शिक्षकों के 410 पद खाली जागरण संवाददाता, रांची : निश्शक्तता आयुक्त सतीश चंद्र ने कहा कि राज्य के स्कूलों में लगभग एक लाख विद्यार्थी पढ़ाई कर रहे हैं। वहीं विशेष शिक्षकों की कमी के कारण इन बच्चों को सामान्य शिक्षक ही पढ़ा रहे हैं। सोमवार को राज्य निश्शक्तता आयुक्त के नेतृत्व में विशेष शिक्षकों के प्रतिनिधिमंडल ने शिक्षा मंत्री जगरनाथ महतो से मिलकर विशेष शिक्षकों की कमी की ओर ध्यान दिलाया।

उन्होंने कहा कि दिव्याग बच्चों को शिक्षण-प्रशिक्षण के लिए विशेष शिक्षक जरूरी है। बिना इसके हम ऐसे बच्चों के अधिकारों को संरक्षित नहीं कर सकते हैं। राज्य में विशेष शिक्षकों के 743 शिक्षकों के पद सृजित है। इसमें सिर्फ 333 विशेष शिक्षक कार्यरत हैं।

शिक्षामंत्री ने कहा कि 10 बच्चों पर एक विशेष शिक्षक नियुक्ति का प्रावधान है तो इसका अनुपालन किया जाएगा। कैबिनेट की सहमति से रिक्त पदों पर विशेष शिक्षकों की नियुक्ति की जाएगी।

प्रतिनिधिमंडल में अध्यक्ष पावेल कुमार, निखिल मधुर, निखिल कुमार, विश्वनाथ महतो, बैजनाथ महतो सहित अन्य थे।

Posted By: Jagran

डाउनलोड करें जागरण एप और न्यूज़ जगत की सभी खबरों के साथ पायें जॉब अलर्ट, जोक्स, शायरी, रेडियो और अन्य सर्विस