रांची, जासं। Sahibganj News, Rupa Tirkey Suicide Case, Jharkhand Samachar साहिबगंज की महिला थाना प्रभारी रूपा तिर्की का शव आज बुधवार की सुबह रांची स्थित पैतृक गांव रातू लाया गया। इसके बाद रातू थाना में शव का अंतिम संस्कार किया गया। अंतिम संस्कार में आसपास के लोग मौजूद थे। इस दौरान परिजनों और स्थानीय लोगों की आंखें नम थी। कोई अफसोस कर रहा था तो कई गुस्से में नजर आया। परिजनों के अलावा स्थानीय लोगों ने भी कहा कि रूपा आत्महत्या नहीं कर सकती है। रूपा की हत्या की गई है। रूपा के परिजनों ने सरकार से निष्पक्ष जांच कर इंसाफ की मांग की है।

सोशल मीडिया पर 'जस्टिस फॉर रूपा'  ने पकड़ी रफ्तार

साहेबगंज की महिला थाना प्रभारी रूपा तिर्की की मौत के बाद अब जस्टिस फॉर रूपा ने रफ्तार पकड़ ली है। फेसबुक, व्हाट्सएप और टि्वटर पर लगातार यह ट्रेंड कर रहा है। गौरतलब है कि रूपा का शव अपने ही आवास के कमरे में पंखे से झूलता हुआ बरामद हुआ था। सोमवार की देर शाम रूपा की फांसी लगाकर आत्महत्या करने की खबर आई थी।

घटना के बाद पुलिस अधीक्षक अनुरंजन किस्पोट्टा, अनुमंडल पुलिस पदाधिकारी राजेंद्र दुबे, डीएसपी हेड क्वार्टर संजय कुमार, सार्जेंट मेजर सहित कई पुलिस अधिकारी घटनास्थल पर पहुंचे और मामले की जांच की। मालूम हो कि पुलिस अवर निरीक्षक रूपा तिर्की ने साहेबगंज में ही प्रशिक्षण प्राप्त की है। इसके बाद साहेबगंज में उन्हें जिला का पहला महिला थाना प्रभारी के रूप में पदस्थापित किया गया था। रूपा तिर्की मूल रूप से रांची रातू स्थित काठीटांड़ गांव की रहने वाली थी। रूपा तिर्की ने संत जेवियर कॉलेज रांची से पढ़ाई पूरी की थी।

परिजनों ने लगाया टॉर्चर का आरोप

रूपा के परिवार वालों ने आरोप लगाया है कि उसके साथी पुलिसकर्मी उसकी सफलता को लेकर जलते थे और आए दिन रूपा को टॉर्चर किया करते थे। रूपा की मां ने बताया कि सोमवार दोपहर करीब 3 बजे रूपा से उसकी बात हुई थी। बातचीत के दौरान रूपा ने बताया था कि उसने जो पानी पिया है, वह दवाई जैसा लग रहा है। मां ने बताया कि उसकी सहकर्मी ह्यूमन ट्रैफिकिंग थाना प्रभारी मनीषा और नगर थाना में पदस्थापित ज्योत्सना, रूपा की पदोन्नति से जलते थे।

रूपा के महिला थाना प्रभारी बनने, क्वार्टर और गाड़ी मिलने पर दोनों अक्सर उसे टॉर्चर किया करते थे। वहीं रूपा की बहन निर्मला तिर्की ने बताया कि‍ कुछ दिन पहले भी मनीषा और ज्योत्सना, रूपा को लेकर किसी पंकज मिश्रा से मिले थे। यहां तीनों ने मिलकर रूपा को काफी प्रताड़ित भी किया था। हालांकि किस तरह से उसे प्रताड़ित किया गया था, यह उसने नहीं बताया। उसने कहा कि‍ उसके साथ गलत व्यवहार किया गया था।

शॉर्ट मे जानें सभी बड़ी खबरें और पायें ई-पेपर,ऑडियो न्यूज़,और अन्य सर्विस, डाउनलोड जागरण ऐप