राज्य ब्यूरो, रांची: रांची जिला बार एसोसिएशन की आमसभा में हंगामे के बीच कई एजेंडे सहमति से पास किए गए। गुरुवार को नए बार भवन की दूसरी मंजिल पर आयोजित आमसभा बैठक हुई। बैठक की शुरू होते ही वहां मौजूद कुछ वकीलों ने 19.38 लाख रुपये के गबन जांच का मुद्दा उठाया। इसके बाद अन्य वकीलों ने भी जांच की मांग और पैसा वापस करने की मांग को लेकर हंगामा करने लगे। सभी अधिवक्ता एक साथ बोल रहे थे। जिसके चलते करीब 20 मिनट हंगामा होता रहा। इसके बाद महासचिव संजय कुमार विद्रोही ने शांति बनाए रखने का अनुरोध करते हुए वकीलों से पूछा कि आप लोगों को गबन की राशि वापस चाहिए या नहीं। इस पर वहां मौजूद वकीलों ने एक स्वर में कहा कि हां जितनी राशि का गबन हुआ उन सभी का पैसा वापस चाहिए। इसके बाद वहां का माहौल शांत हुआ। आमसभा निवर्तमान महासचिव कुंदन प्रकाशन भी पहुंचे और गबन की सच्चाई रखते हुए कहा वह जांच को तैयार हैं। आमसभा में बार एसोसिएशन के अध्यक्ष एसपी अग्रवाल समेत सभी नवनिर्वाचित सदस्य उपस्थित थे।

-----------------

निम्नलिखित एजेंडे हुए पास

साल 2019-21 में हुए गबन का पैसा वापस लाया जाए

घोटाले करने वाले पर प्राथमिकी दर्ज की जाए

एजेंडा को कोई निर्वाचित पदाधिकारी नहीं मानते या बाधा डालते है, तो मिसकंडक्ट की शिकायत बार काउंसिल को भेजा जाएगा

महासचिव द्वारा बनाई गई 24 उपसमिति का अनुमोदन हुआ

चैंबर आवंटन में गड़बड़ी की जांच

1.49 करोड़ रुपये के पूर्व में हुए घोटाले पर प्राथमिकी हो, बार काउंसिल को पत्र लिखा जाएगा

महासचिव जब चाहे आमसभा को बुला सकते हैं

पूर्व में जो भी घोटाले हुए हैं, उसमें संलिप्त निर्वाचित सदस्यों पर सख्त कार्रवाई हो

15 नवंबर 2011 के बार आवंटित चैंबर गड़बड़ी की जांच की जाएगी

बार में खाली पड़े चैंबर का एक कीमत निर्धारित कर लाटरी के माध्यम से आवंटन किया जाएगा

जो वकील वकालतनामा का प्रयोग नहीं करते हैं, उनके खिलाफ कार्रवाई होगी

बार के सभी बैंक खातों नयी कमेटी का हस्ताक्षर नवीनीकरण

2019-21 में गबन मामले की जांच सीआईडी से

अगली आमसभा 25 फरवरी 2022 को बुलाई जाएगी

Edited By: Jagran