झुमरीतिलैया, जासं। RPF, Meri Saheli कोडरमा व गया के बीच घने जंगल स्थित घाट सेक्शन में रेलवे ट्रैक पर बेहोश पड़ी लगभग 40 वर्षीया महिला आरपीएफ ने आवश्यक मदद कर जान बचाई। जानकारी के अनुसार रविवार की देर रात जैसे ही धनबाद रेल कंट्रोल को इसकी सूचना मिली, तत्काल कोडरमा आरपीएफ हरकत में आयी और घटनास्थल पहुंची। महिला को अस्पताल में पहुंचाने के लिए उक्त जंगल से सड़क मार्ग होते हुए गया या कोडरमा भेजने के लिए कोई व्यवस्था नहीं थी।

ऐसे में जख्मी महिला के इलाज के लिए कोडरमा पोस्ट प्रभारी जवाहरलाल ने ट्रेन रोकने की मांग की। इसी दौरान हावड़ा-दिल्ली मेन लाइन से गुजर रही एक ट्रेन को तत्काल गुरपा स्टेशन पर रोका गया और नाथगंज व बसकटवा हाल्ट के बीच पोल संख्या 415 / 36-38 के समक्ष बेहोश पड़ी महिला को लाकर गुरपा से उस ट्रेन में सवार किया गया। आरपीएफ के दो आरक्षी सुदेश कुमार और अशोक कुमार गुप्ता उक्त ट्रेन में सवार होकर कोडरमा आए।

यहां आरपीएफ ने पहले से महिला को अस्पताल भेजने की तैयारी कर रखी थी और एंबुलेंस भी पहले से खड़ा था। फिलहाल सदर अस्पताल में उक्त महिला का इलाज इमरजेंसी वार्ड में किया जा रहा है। महिला की स्थिती चिंताजनक बनी हुई है और अभीतक उक्त महिला की पहचान नहीं हो पाई है। वहीं दूसरी ओर आरपीएफ के द्वारा बनाई गई मेरी सहेली सुरक्षा टीम भी कोडरमा स्टेशन पर आवश्यक भूमिका निभाई।