रांची, [संजीव रंजन]। रोहित शर्मा के शानदार शतक व अजिंक्य रहाणे की अद्र्ध शतकीय पारी की बदौलत भारत ने दक्षिण अफ्रीका के खिलाफ तीसरे टेस्ट मैच के पहले दिन तीन विकेट पर 224 रन बना अपनी स्थिति मजबूत कर ली। बारिश के कारण पहले दिन 58 ओवर ही खेल हो सका। चाय के बाद खेल रोक दिया गया। रोहित का इस सीरीज में तीसरा व करियर का छठा शतक है। रोहित शर्मा (117) व रहाणे (83) नाबाद लौटे। सुबह दक्षिण अफ्रीकी गेंदबाजों ने शानदार गेंदबाजी करते हुए महज 39 रन पर ही भारत के तीन विकेट गिरा दिए थे।

मयंक अग्रवाल, पुजारा और कप्तान कोहली के सस्ते में निपटने के बाद रोहित शर्मा ने अजिंक्य रहाणे के साथ मिलकर टीम को संभाला। इसके बाद में गेयर शिफ्ट करते हुए तेज गति से रन भी बनाए। दोनों के बीच चौथे विकेट के लिए 185 रन की नाबाद साझेदारी हो चुकी है। दोनों बल्लेबाजों ने धीमी शुरुआत करने के बाद मेहमान टीम के गेंदबाजों की कमजोर गेंदों पर शॉट खेले।

टेस्ट सीरीज में सबसे ज्यादा 16 छक्के लगाने का रिकाॅर्ड बनाया

रोहित ने छक्का लगाते हुए अपने करियर का छठा और सीरीज का तीसरा शतक लगाया। इसी के साथ हिटमैन एक टेस्ट सीरीज में सबसे ज्यादा 16 छक्के लगाने वाले बल्लेबाज बन गए। उन्होंने वेस्टइंडीज के शिमरोन हेटमायर का रिकॉर्ड तोड़ा। हेटमायर ने 2018/19 में बांग्लादेश के खिलाफ सीरीज में 15 छक्के लगाए थे। रोहित से पहले भारत के लिए यह रिकॉर्ड हरभजन सिंह के नाम था। हरभजन ने 2010/11 में न्यूजीलैंड के खिलाफ सीरीज में 14 छक्के लगाए थे। इसके पहले रहाणे ने भी 21वां अद्र्धशतक पूरा किया। रोहित के करियर का यह छठा शतक है। भारत के प्रारंभिक बल्लेबाजों के सभी शतक घरलू मैदानों में ही बने हैं।

रबादा ने दिए शुरुआती झटके

टॉस जीतकर भारतीय कप्तान विराट कोहली ने पहले बल्लेबाजी करने का निर्णय लिया। लेकिन एक समय उनका यह निर्णय गलत साबित होता नजर आया जब विश्व के सर्वश्रेष्ठ तेज गेंदबाजों में शुमार रबादा ने दो विकेट झटक कर मेजबान टीम को बैकफुट पर भेज दिया। रबादा ने पिच की नमी व भारी मौसम का लाभ उठाते हुए शानदार गेंदबाजी की। पहली बार रबादा लय में नजर आए। उनके शुरुआती ओवरों को खेलने में भारतीय प्रारंभिक बल्लेबाजों को काफी परेशानी हुई।

कगिसो रबादा ने पारी के पांचवें ओवर में भारत को बड़ा झटका किया। ओवर की आखिरी गेंद पर उन्होंने मयंक अग्रवाल का विकेट हासिल किया। मयंक स्लिप में आसान कैच थमाकर 10 रन बनाकर आउट हुए। भारत अभी इस झटके से उबरा भी नहीं था कि रबादा ने भरोसमंद बल्लेबाज चेतेश्वर पुजारा को बिना खाता खोले लौटा दिया। रबादा की गेंद खेलने में पुजारा चूके और गेंद सीधे पैड पर लगी। रबादा ने जोदार अपील की  लेकिन अंपायर ने आउट करार नहीं दिया। इस पर कप्तान फाफ डु प्लेसी ने रिव्यू लेने का फैसला किया और फैसला रबादा के पक्ष में रहा और पुजारा एलबीडब्लू आउट हुए।

नोर्ट्जे का पहला शिकार बने कोहली

टीम के दो विकेट महज 16 रन पर गिरने के बाद कप्तान कोहली पिच पर उतरे। स्कोर अभी 39 रन पर पहुंचा था कि एनरिक नोट्जे की गेंद उनके पैड पर लगी। एनरिक की एलबीडब्ल्यू की अपील पर अंपायर ने आउट करार दिया। कोहली ने रिव्यू लेने का फैसला किया, हालांकि फैसला दक्षिण अफ्रीका के पक्ष में रहा और कोहली को सिर्फ 12 रन बनाकर लौटना पड़ा।

रोहित ने सीरीज का तीसरा शतक जड़ा

रोहित शर्मा ने जब से टेस्ट में ओपनिंग की जिम्मेदारी संभाली है उनका बल्ला खूब रन उगल रहा है। सीरीज के पहले टेस्ट की दोनों पारियों में शतक जड़कर कई रिकॉर्ड बनाने वाले हिटमैन रांची में दक्षिण अफ्रीका के खिलाफ भी शतकीय पारी खेली। रोहित ने 86 गेंदों में अद्र्धशतक व 130 गेंदों में शतक बनाया।

छक्के से पूरा किया शतक

रोहित शर्मा दक्षिण अफ्रीका के खिलाफ इस सीरीज में पहली बार भारत के लिए टेस्ट में ओपनिंग करने उतरे थे। उन्होंने पहले टेस्ट (विशाखापत्तनम) की पहली पारी में 176 रन जड़े थे जबकि दूसरी पारी में 127 रन बनाए। रांची में लगाया गया शतक रोहित के टेस्ट करियर की छठी सेंचुरी है। उन्होंने शतक के लिए 130 गेंदों का सामना किया, जबकि 13 चौके और 4 छक्के लगाए। रोहित ने 100वां रन छक्का लगा कर पूरा किया।

 400 रन भी पूरे किए

जैसे ही रोहित ने छक्का लगाकर शतक पूरा किया वैसे ही उनके टेस्ट क्रिकेट में 2000 रन भी पूरे हो गए। इस तरह यह सीरीज में रोहित का तीसरा शतक है। इसके साथ ही रोहित शर्मा ने मौजूदा सीरीज में 400 रन भी पूरे कर लिए हैं। वह इस टेस्ट सीरीज में अभी तक सबसे अधिक रन, सबसे अधिक शतक, सबसे अधिक चौके और सबसे अधिक छक्के लगाने वाले बल्लेबाज भी हैं।

छक्के से शतक पूरा करने वाले भारतीय बल्लेबाज

6 बार : सचिन तेदुलकर

2 बार : गौतम गंभीर

2 बार : रोहित शर्मा

लोकल बॉय शाहबाज नदीम का टेस्ट डेब्यू, फर्स्‍ट क्लास में ले चुके हैं 424 विकेट

धौनी के मैदान में एक और लोकल बॉय शाहबाज नदीम ने टेस्‍ट डेब्‍यू किया। दक्षिण अफ्रीका के खिलाफ तीन मैचों की टेस्ट सीरीज को भारत ने पहले ही अपने नाम कर लिया है। मेजबान टीम सीरीज में 2-0 से आगे चल रही है। कप्तान कोहली ने सीरीज के इस तीसरे मैच के लिए तेज गेंदबाज इशांत शर्मा के स्थान पर झारखंड के शाहबाज नदीम को मौका दिया है। 30 वर्षीय नदीम भारत के लिए टेस्ट खेलने वाले 296वें खिलाड़ी हैं।

नदीम के नाम 424 फर्स्‍ट क्लास विकेट

नदीम ने इस टेस्ट के साथ ही टेस्ट में डेब्यू किया। टॉस से ठीक पहले कप्तान विराट कोहली ने उन्हें टेस्ट कैप पहनाई। बाएं हाथ के ऑर्थोडॉक्स स्पिन गेंदबाज नदीम ने फर्स्‍ट क्लास करियर में कुल 110 मैच खेलते हुए 424 विकेट झटके हैं, जबकि 2131 रन भी बनाए हैं। उनकी सर्वश्रेष्ठ गेंदबाजी 45 रन देकर 7 विकेट रही है। लिस्ट-ए करियर की बात करें तो उन्होंने 106 मैच खेलते हुए 145 विकेट झटके हैं। मौजूदा सत्र में वह विजय हजारे ट्रॉफी में झारखंड के लिए खेल रहे थे।

सपना पूरा हुआ

तीसरे टेस्ट में टीम इंडिया का  हिस्सा बने शाहबाज नदीम ने भारतीय कप्तान विराट कोहली के हाथों कैप लेने को जीवन का सबसे बड़ा यादगार लम्हा बताया। पहले दिन खेल समाप्ति के बाद नदीम ने कहा, मेरा सपना आज पूरा हुआ। पिछले 14 साल से मैं इस कैप को लेना चाहता था आज वह पूरा हो गया।

Posted By: Sujeet Kumar Suman

अब खबरों के साथ पायें जॉब अलर्ट, जोक्स, शायरी, रेडियो और अन्य सर्विस, डाउनलोड करें जागरण एप