रांची, जासं। होली के त्योहार को खास अंदाज से मनाने वाले लालू प्रसाद यादव ने रांची के रिम्स में तैनात सुरक्षाकर्मियों और वार्ड के लोगों के साथ हल्के अंदाज में होली मनाई। चारा घोटाले के चार मामलों में सजा काट रहे राजद सुप्रीमो लालू प्रसाद यादव का इलाज कर रहे मेडिसीन विभाग के चिकित्‍सक डॉ. उमेश प्रसाद ने बताया कि लालू ने पहले ही डॉक्टरों को होली नहीं मनाने की बात बता दी थी। उन्होंने बताया कि लालू प्रसाद यादव और उनकी पार्टी राष्‍ट्रीय जनता दल ने सर्वसम्मति से फैसला लेकर इस साल की होली पुलवामा आतंकी हमले में शहीद हुए सीआरपीएफ जवानों के नाम समर्पित कर दी।

बताते चलें कि चारा घोटाला मामले में सजायाफ्ता रिम्स के पेइंग वार्ड में इलाजरत लालू प्रसाद ने होली का त्योहार नहीं मनाया, लेकिन  वार्ड में तैनात गार्डों ने जब उनके पैरों पर अबीर डाला तो लालू प्रसाद यादव ने किसी को निराश नहीं किया। उन्‍होंने सभी को आशीर्वाद देकर होली की शुभकामनाएं भी दी। डॉ. उमेश प्रसाद ने बताया कि होली के दौरान लालू प्रसाद को थोड़ी मात्रा में पकवान खाने की भी छूट दी गई थी। डॉक्टर ने बताया कि फिलहाल लालू प्रसाद यादव का क्रिटनीन थोड़ा बढ़ा हुआ है, लेकिन स्वास्थ्य फिलहाल सामान्य है।

बता दें कि कुर्ता फाड़ होली के लिए मशहूर लालू प्रसाद यादव चारा घोटाले के चार मामलों में रांची के बिरसा मुंडा जेल में सजा काट रहे हैं। जहां से उनकी गंभीर बीमारियों के इलाज के लिए पुलिस अभिरक्षा में रिम्‍स के पेइंग वार्ड में भर्ती कराया गया है। बीते दिन लालू प्रसाद यादव ने हाई कोर्ट से चारा घोटाले के तीन मामलों में जमानत याचिका खारिज होने के बाद सुप्रीम कोर्ट में स्‍पेशल लीव पिटीशन दाखिल कर बेल की गुहार लगाई है।

लालू ने अपनी बढ़ती उम्र, गंभीर बीमारियों और राजद प्रमुख होने के नाते लोकसभा चुनाव में महती जिम्‍मेवारी निभाने का हवाला देते हुए सर्वोच्‍च न्‍यायालय से जमानत मांगी है।पिछली सुनवाई पर सुप्रीम कोर्ट में लालू की ओर से वरिष्‍ठ कांग्रेस नेता और उच्‍चतम न्‍यायालय के वकील कपिल सिब्‍बल ने पैरवी की थी। तब सुप्रीम कोर्ट ने सीबीआइ को दो हफ्ते में जवाब देने को कहा था। लालू प्रसाद यादव की जमानत याचिका पर अब अप्रैल के पहले हफ्ते में सुनवाई की उम्‍मीद की जा रही है।

Posted By: Alok Shahi

अब खबरों के साथ पायें जॉब अलर्ट, जोक्स, शायरी, रेडियो और अन्य सर्विस, डाउनलोड करें जागरण एप