रांची, राज्य ब्यूरो। झारखंड सरकार कोरोना से निपटने तथा लोगों को स्वास्थ्य सुविधाएं सहज उपलब्ध कराने के लिए मेडिकल एवं नर्सिंग के अंतिम वर्ष के छात्रों की सेवा लेगी। इसके तहत निर्धारित अवधि के लिए संविदा पर उनकी नियुक्ति की जाएगी। केंद्र से इसकी अनुमति मिलने के बाद राष्ट्रीय स्वास्थ्य अभियान, झारखंड ने इनकी नियुक्ति प्रक्रिया शुरू कर दी है।

राज्य सरकार ने मेडिकल के 1,041 छात्र-छात्राओं, नर्सिंग के 1209 छात्र-छात्राओं के अलावा 210 बीडीएस व आयुष चिकित्सकों की नियुक्ति की प्रक्रिया शुरू की है। मेडिकल छात्र-छात्राओं में 42 मेडिकल पीजी इंटर्न्स, 477 एमबीबीएस, 193, मेडिकल यूजी इंटर्न्स, 522 एमबीबीएस अंतिम वर्ष के छात्र-छात्राएं शामिल हैं। इसी तरह, नर्सिंग में जीएनएम नर्सिंग अंतिम वर्ष की 791 छात्राएं तथा बीएससी नर्सिंग अंतिम वर्ष की 418 छात्राएं शामिल हैं।

इन पदों पर संविदा पर नियुक्ति के लिए 10 नवंबर तक राष्ट्रीय स्वास्थ्य अभियान, झारखंड के पोर्टल पर आवेदन आमंत्रित किए गए हैं। बता दें कि इमरजेंसी कोविड रेस्पांस पैकेज फेज-2 के तहत केंद्र ने इनके नौ माह के मानदेय के लिए 14.08 करोड़ रुपये की मंजूरी प्रदान की है। मेडिकल व नर्सिंग छात्र-छात्राओं को अपने संस्थानों के पास के अस्पतालों में तैनात किया जाएगा।

किन्हें मिलेगा कितना दैनिक मानदेय

-मेडिकल पीजी इंटर्नस : 3,500 रुपये

-एमबीबीएस : 2000

-मेडिकल यूजी इंटर्नस : 1,500 रुपये

-एमबीबीएस अंतिम वर्ष : 1200 रुपये

-बीएससी नर्सिंग अंतिम वर्ष : 550 रुपये

-जीएनएम नर्सिंग अंतिम वर्ष : 550 रुपये

-आयुष या बीडीएस : 800 रुपये

Edited By: Sujeet Kumar Suman