रांची, [राज्य ब्यूरो] । झारखंड सरकार युवाओं के मॉडल स्वामी विवेकानंद की जयंती पर शुक्रवार को उन्हें सच्ची श्रद्धांजलि देने जा रही है। शुक्रवार को होनेवाले कार्यक्रम में पहली बार 25 हजार से अधिक युवाओं को नियुक्ति पत्र दिया जाएगा। युवाओं को शिक्षा से लेकर आइटी तक के सेक्टर में रोजगार के अवसर मिलने जा रहे हैं। नौकरी उन्हें ही मिल रही है जो आवश्यक प्रशिक्षण प्राप्त कर चुके हैं।

तैयारियों के अनुसार कार्यक्रम में चार केंद्रीय मंत्री से लेकर मुख्यमंत्री तक और और मारुति के प्रबंध निदेशक से लेकर फिल्मकार सुभाष घई तक मौजूद होंगे। सांकेतिक तौर पर कुछ युवाओं को नियुक्ति पत्र मिलेगा। कार्यक्रम के दौरान तीन विषयों पर अलग-अलग सेमिनार का भी आयोजन होगा जिसमें जानेमाने वक्ता अपनी बातों को रखेंगे। मोमेंटम झारखंड, कौशल विकास, स्टेट स्किल पॉलिसी, भविष्य की नौकरियां आदि विषयों पर चर्चा होगी। कई निजी कंपनियों के प्रतिनिधि भी मौजूद रहेंगे।

शुक्रवार को आयोजन स्थल पर स्किल समिट का आयोजन होगा जिसमें यूनाइटेड किंगडम और ऑस्ट्रेलिया के अंतरराष्ट्रीय सेक्टर स्किल संस्थाओं के साथ एमओयू किया जाएगा।

मुख्य वक्ता- धर्मेद्र प्रधान, केंद्रीय कैबिनेट मंत्री, पेट्रोलियम एवं कौशल विकास।  रविशंकर प्रसाद, केंद्रीय कैबिनेट मंत्री, कानून- रघुवर दास, मुख्यमंत्री, झारखंड - जयंत सिन्हा, केंद्रीय उड्यन राज्यमंत्री- सुदर्शन भगत, केंद्रीय राज्यमंत्री- नीरा यादव, शिक्षा मंत्री, झारखंड सरकार - एमएम सिंह, प्रबंध निदेशक, मारुति सुजुकी- सुभाष घई, फिल्म निर्माता - लिम बुन तियोंग, निदेशक, आइटीइ सिंगापुर- वंदना लूथरा, चेयरपर्सन, वीएलसीसी- राजबाला वर्मा, मुख्य सचिव - अजय कुमार सिंह, सचिव

कार्यक्रम को मुकाम तक पहुंचाने में लगी है कोर टीम

25 हजार से अधिक युवकों को रोजगार मुहैया कराने को लेकर चल रही तैयारियों में झारखंड सरकार की कोर टीम लगी हुई है। मुख्य सचिव राजबाला वर्मा स्वयं इसकी सीधी समीक्षा कर रही हैं और एक-एक गतिविधि पर नजर रख रही हैं। उच्च, तकनीकी शिक्षा एवं कौशल विकास विभाग के सचिव अजय कुमार सिंह के नेतृत्व में पूरी तैयारी चल रही है जिसमें आधा दर्जन से अधिक आइएएस अधिकारी सहयोग कर रहे हैं।

राज्य सरकार वरिष्ठ आइएएस अधिकारियों में दुमका के डीसी मुकेश कुमार, कृषि सचिव पूजा सिंघल, उच्च शिक्षा निदेशक अबू इमरान, खाद्य आपूर्ति सचिव अमिताभ कौशल, उद्योग निदेशक के. रविकुमार, खान आयुक्त अबु बकर सिद्दीख, पर्यटन निदेशक जितेंद्र सिंह, महिला एवं बाल विकास विभाग के सचिव विनय चौबे और खूंटी उपायुक्त मनीष रंजन इस कार्यक्रम को मुकाम तक पहुंचने में दिन-रात एक किए हुए हैं। 

Posted By: Preeti jha

डाउनलोड करें जागरण एप और न्यूज़ जगत की सभी खबरों के साथ पायें जॉब अलर्ट, जोक्स, शायरी, रेडियो और अन्य सर्विस