रांची, राज्य ब्यूरो। पुलिस मुख्यालय में गुरुवार को डीजीपी कमल नयन चौबे ने शहर की विभिन्न सामाजिक, धार्मिक संस्थाओं व संगठनों के साथ बैठक की। आगामी मुहर्रम, करमा व दुर्गापूजा के सफल व शांतिपूर्ण आयोजन में सभी संगठनों ने पुलिस-प्रशासन की मदद का आश्वासन दिया। पुलिस महानिदेशक (डीजीपी) ने कहा कि असामाजिक तत्वों की सूचना पुलिस को दें, कार्रवाई होगी। सभी समुदाय के लोगों से अपील की कि वाट्सएप ग्रुप पर अफवाह फैलाने वालों पर विशेष ध्यान दें, ताकि आपसी सौहार्द बिगडऩे न पाए।

डीजीपी ने सावन की अंतिम सोमवारी व बकरीद एक साथ तथा शांतिपूर्ण मनाने के लिए आम जनता व सभी समुदाय के लोगों का आभार जताया। बैठक में सभी समितियों ने डीजीपी को आश्वस्त किया कि वे आपसी भाईचारा व सौहार्द से सभी त्योहार मनाएंगे। समितियों ने दुर्गापूजा के दौरान दूरदराज के ग्रामीण क्षेत्रों से आने वाले श्रद्धालुओं की सुरक्षा व नशा पर रोक तथा यातायात व्यवस्था के सुदृढ़ीकरण का भी अनुरोध किया।

करमा व मुहर्रम के पांच-पांच अखाड़ों पर नजर रखने का अनुरोध

बैठक में समितियों ने डीजीपी से कहा कि 09 सितंबर को करमा के पांच अखाड़े व 10 सितंबर को मुहर्रम के पांच अखाड़े के मैदान को चिह्नित कर उसकी विशेष निगरानी का अनुरोध किया। बैठक में शांति समिति के सदस्यों को पहचान पत्र निर्गत करने, युवा वर्ग को शांति समितियों से जोड़े जाने, पंडालों के निकट पुलिस की व्यवस्था करने, थानावार शांति समितियों की बैठक करने, महिलाओं की सुरक्षा, मेला के स्थलों व पंडालों के आसपास वाहनों का इस्तेमाल कम करने, सादे लिबास में पुलिसकर्मियों की तैनाती, शराबबंदी पर विशेष ध्यान देने आदि की मांग की गई है। इतना ही नहीं, बेहतर करने वाले शांति समिति के पदाधिकारियों व गण्यमान्य लोगों को उनके सहयोग के लिए पुरस्कृत करने का भी सुझाव दिया गया है।

बैठक में ये थे मौजूद

श्री महावीर मंडल, रांची जिला दुर्गापूजा समिति, मुहर्रम समिति, महानगर दुर्गापूजा समिति, ग्रामीण दुर्गापूजा समिति, अंजुमन इस्लामिया, सद्भावना समिति, युवा दस्ता के प्रतिनिधि व पुलिस मुख्यालय से डीजीपी के अलावा डीजी मुख्यालय, एडीजी विशेष शाखा, एडीजी ऑपरेशन, डीआइजी रांची, एसएसपी रांची, एआइजी टू डीजीपी मुख्य रूप से उपस्थित थे।

Posted By: Sujeet Kumar Suman

अब खबरों के साथ पायें जॉब अलर्ट, जोक्स, शायरी, रेडियो और अन्य सर्विस, डाउनलोड करें जागरण एप