जागरण संवाददाता, रांची : लगातार हो रही तेज बारिश के कारण हावड़ा - रांची स्पेशल एक्सप्रेस को शॉर्ट टर्मिनेट किया गया तो कुछ ट्रेनें रद रहीं। हावड़ा से खुलने वाली ट्रेन संतरागाछी से खुली। निर्धारित समय सारणी के अनुसार यह ट्रेन हावड़ा से यह ट्रेन रात्रि 10.15 बजे खुलती है। रात्रि 11.32 बजे संतरागाछी स्टेशन से खुली। इससे हावड़ा से रांची आने वाले यात्रियों को परेशानी होगी। ट्रेन पकड़ने के लिए उन्हें संतरागाछी तक जाना पड़ेगा। वहीं ट्रेन संख्या 02896 रांची - हावड़ा स्पेशल ट्रेन शनिवार को हावड़ा स्टेशन के स्थान पर खड़गपुर स्टेशन तक ही गई। एवं ट्रेन संख्या 02895 हावड़ा - रांची स्पेशल ट्रेन खड़गपुर स्टेशन से ही प्रारंभ हुई। उल्लेखनीय है कि शुक्रवार को 02803 रांची - हावड़ा स्पेशल ट्रेन हावड़ा स्टेशन के स्थान पर संतरागाछी स्टेशन तक ही गई। जबकि ट्रेन संख्या 02019/02020 हावड़ा - रांची - हावड़ा स्पेशल ट्रेन शनिवार को रद कर दी गई थी।

रांची रेल मंडल के कई सेक्शन और स्टेशन के निकट रेल पटरियों पर जलजमाव के कारण ट्रैक से पानी निकालने का कार्य निरंतर होते रहा, ताकि ट्रेनों के परिचालन पर ज्यादा असर ना पड़े । इसे लेकर विभिन्न सेक्शनों में अधिकारी भी बने रहें।

राढ़ू नदी पर बना पुल बहा, दर्जनों गावों का संपर्क टूटा

लगातार हो रही भारी बारिश से राढ़ू नदी में हेसलाबेड़ा भोगताटोली व मेढ़ा के बीच में बना पुल बह गया। इससे दर्जनों गावों का संपर्क अनगड़ा प्रखंड मुख्यालय से टूट गया। पुल गौतमधारा रोड से मेढ़ा-हापतबेड़ा व हेसलाबेड़ा को आपस में जोड़ता है। करीब दस किमी लंबे उक्त पथ की मरम्मत वर्ष 2009-10 में किया गया था। वहीं, पुल का निर्माण बाइस साल पहले बाजार समिति पंडरा के द्वारा कराया गया था। राढ़ू नदी ही आगे जाकर जोन्हा गौतमधारा में जलप्रपात का निर्माण करती है। पुल के बह जाने से इस पथ के आसपास बसे मेढ़ा, हेसलाबेड़ा, हापतबेड़ा, कोयनारडीह, पैका, जरगा आदि का संपर्क का टूट गया।

---------

22 साल पहले बना था पुल, हो गया था जर्जर

चार स्पेन का 22 साल पुराना पुल जर्जर हो गया था। चार साल पूर्व भी यह पुल बारिश में कई जगहों से झतिग्रस्त हो गया था। बाद में सामाजिक कार्यकर्ताओं के प्रयास से मिट्टी आदि डालकर इसकी मरम्मत कराई गई थी। पर, इस बार में राढ़ू नदी पुल को ही बहा ले गई।

Edited By: Jagran