रांची, जासं । रांची जिले के विभिन्न प्रखंडों में आंगनबाड़ी केंद्रों को मॉडल आंगनबाड़ी केंद्र के रूप में विकसित किया जा रहा है। सीएसआर फंड के तहत इन आंगनबाड़ी केंद्रों को मॉडल आंगनबाड़ी केंद्र के रूप में विकसित किया जा रहा है। रांची जिले के मांडर और कांके प्रखंड के आंगनबाड़ी केंद्रों को मॉडल आंगनबाड़ी केंद्र के रूप में विकसित करने का कार्य प्रगति पर है। इन दोनों प्रखंडों में 150 आंगनबाड़ी केंद्रों को सीएसआर फंड के माध्यम से मॉडल आंगनबाड़ी केंद्र बनाया जा रहा है। रांची जिले के विभिन्न प्रखंडों में मॉडल आंगनबाड़ी केंद्रों को विकसित करने में सीएसआर के तहत सीसीएल रांची जिला प्रशासन का सहयोग कर रहा है।

उप विकास आयुक्त रांची अनन्य मित्तल आंगनबाड़ी केंद्रों को मॉडल बनाए जाने के कार्य का निरंतर निरीक्षण कर रहे हैं। इसी क्रम में उन्होंने मंगलवार को इन दोनों प्रखंडों में आंगनबाड़ी केंद्रों का निरीक्षण किया। इस दौरान उन्होंने मॉडल आंगनबाड़ी केंद्रों में सोलर पावर बैकअप की सुविधा देने पर पदाधिकारियों के साथ विचार-विमर्श भी किया। डीडीसी के दौरे के दौरान जिला अभियंता डीएमएफटी और पीएमयू के सदस्य मौजूद थे। इन मॉडल आंगनबाड़ी केंद्रों के निरीक्षण के बाद उप विकास आयुक्त अनन्य मित्तल ने कहा कि इन केंद्रों के पूरी तरह से तैयार हो जाने के बाद इस ग्रामीण क्षेत्र के लोगों को इसका भरपूर लाभ मिलेगा। कार्य बहुत तेजी से हो रहा है और उम्मीद है कि जल्द ही इनका कार्य पूरा भी हो जाएगा।

Indian T20 League

शॉर्ट मे जानें सभी बड़ी खबरें और पायें ई-पेपर,ऑडियो न्यूज़,और अन्य सर्विस, डाउनलोड जागरण ऐप

kumbh-mela-2021